EBM News Hindi

भारतीय टीम ने जब दक्षिण अफ्रीका के लिए यादगार बना दी 7 दिसंबर की तारीख, बरसों बाद भी नहीं भूला कोई

नई दिल्ली. साउथ अफ्रीका के लिए आज का दिन खास है. आज ही के दिन यानी 7 दिसंबर 1992 को देश में पहली पारी वनडे का मुकाबला खेला गया. मैच में भारत और साउथ अफ्रीका (India vs South Africa) की टीमें आमने-सामनें थीं. सचिन तेंदुलकर  ने भी मैच में कमाल का प्रदर्शन किया था. लेकिन वे भारत को जीत नहीं दिला सके. मेजबान टीम ने रोमांचक जीत दर्ज करने के साथ ही घर में जीत के साथ आगाज किया था.

साउथ अफ्रीका की कप्तानी केप्लर वेसेल्स  कर रहे थे. भारतीय कप्तान माेहम्मद अजहरुद्दीन  ने मैच में टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया. अजय जडेजा और डब्ल्यूवी रमन ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई. दोनों ने पहले विकेट के लिए 92 रन जोड़े. लेकिन रनरेट बढ़ाने के चक्कर में टीम इंडियाको कोई बल्लेबाज टिककर नहीं खेल सका. जडेजा ने सबसे अधिक 48 रन बनाए.

भारतीय टीम 50 ओवर में 184 रन बनाकर पवेलियन लौट गई. डब्ल्यूवी रमन ने भी 47 रन बनाए. सचिन तेंदुलकर  बड़ी पारी नहीं खेल सके. उन्होंने 27 गेंद पर 15 रन बनाए. कप्तान अजहरुद्दीन सिर्फ 9 रन बना सके. कपिल देव  ने 27 गेंद पर 27 रन बनाकर बनाकर कुछ अच्छे हाथ दिखा. साउथ अफ्रीका की ओर से तेज गेंदबाज हेंसी क्रोन्येने शानदार प्रदर्शन किया. उन्होंने 10 ओवर में सिर्फ 32 रन दिए आसैर 5 विकेट झटके.

साउथ अफ्रीका की टीम को भी मैच जीतने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी. टीम ने लक्ष्य को 49.3 ओवर में 4 विकेट पर हासिल किर लिया. पीटर कर्स्टन ने सबसे अधिक 56 रन बनाए. सचिन तेंदुलकर ने कमाल की गेंदबाजी की. उन्होंने 10 ओवर में सिर्फ 25 रन दिए और एक विकेट भी झटका. यह उनका अच्छे प्रदर्शन में से एक हैं. केप्लर वेसेल्स रन आउट हुए. वे तीसरे अंपायर द्वारा आउट दिए जाने वाले पहले खिलाड़ी बने थे.

Leave A Reply

Your email address will not be published.