EBM News Hindi

तुर्की के राष्ट्रपति चुनाव में एर्दोआन विजेता घोषित, कहा- देश ने मुझ पर भरोसा जताया

इस्तांबुल: तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने राष्ट्रपति चुनाव में सोमवार(25 जून) को जीत दर्ज की तथा अब वह और पांच वर्षों तक इस पद पर बने रह सकेंगे. हालांकि चुनाव प्रक्रिया को लेकर विपक्ष ने सवाल उठाये है. इसके साथ ही सत्ता पर एर्दोआन की पकड़ मजबूत हो गई है. गौरतलब है कि वह करीब 15 वर्ष से सत्ता पर काबिज हैं. गत रविवार को हुए राष्ट्रपति चुनाव में दूसरे दौर की मतगणना के बिना ही संसद में एर्दोआन की सत्तारूढ़ जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी को पूर्ण बहुमत मिल गया. चुनाव निकाय ‘‘सुप्रीम इलेक्शन बोर्ड’’ (वाईएसके) के प्रमुख सैदी गुवेन ने बताया कि एर्दोआन ने अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी मुहर्रम इन्स को पराजित किया.

पहले ही चरण में उन्हें आधे से अधिक मत मिल चुके थे जिसके चलते दूसरे चरण की जरूरत ही नहीं पड़ी. अप्रैल 2017 में हुए जनमत संग्रह में नए संविधान पर सहमति बनी थी. इसके तहत एर्दोआन ऐसे पहले राष्ट्रपति होंगे जो बिना किसी प्रधानमंत्री के अत्यधिक अधिकार रखेंगे. इसका एर्दोआन ने मजबूती से समर्थन किया था लेकिन विरोधियों का कहना है कि इससे राष्ट्रपति को निरंकुश शक्तियां मिलेंगी.

एर्दोआन को राष्ट्रपति चुनावों में 52.5 प्रतिशत मत मिले हैं
इस्तांबुल के अपने आवास से विजयी संदेश में एर्दोआन ने कहा, ‘‘मुझ पर देश ने भरोसा जताते हुए राष्ट्रपति पद का कार्य और कर्तव्य सौंपा है।’’ उन्होंने कहा कि नयी राष्ट्रपति प्रणाली को तेजी से लागू किया जाएगा. उन्होंने 88 फीसदी मतदान की ओर संकेत करते हुए कहा , ‘‘ तुर्की ने पूरी दुनिया को लोकतंत्र का पाठ पढ़ाया है. ’’ सरकारी समाचार एजेंसी ‘ अनाडोलू ’ की रिपोर्ट के अनुसार 99 प्रतिशत वोटों की गिनती के आधार पर एर्दोआन को राष्ट्रपति चुनावों में 52.5 प्रतिशत मत मिले हैं.

वहीं धर्म निरपेक्ष ‘ रिपब्लिकन पीपल्स पार्टी ’ के उनके प्रतिद्वंद्वी मुहर्रम इन्स को 30.7 प्रतिशत मत हासिल हुए हैं. सुप्रीम इलेक्शन बोर्ड (वाईएसके) इस सप्ताह के अंत में अंतिम परिणाम प्रकाशित करेगा लेकिन उसके अध्यक्ष सैदी गुवेन ने एर्दोआन को विजेता घोषित कर दिया. यदि परिणामों की पुष्टि होती है तो इसका यह मतलब होगा कि एर्दोआन की स्थिति 2014 के राष्ट्रपति चुनाव के मुकाबले सुधरेगी.

उस चुनाव में एर्दोआन को 51.8 प्रतिशत मत मिले थे. इस बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने एर्दोआन को फिर से राष्ट्रपति चुने जाने पर आज बधाई दी और कहा कि परिणामों से पता चलता है कि तुर्की के नेता की ‘‘ अच्छी राजनीतिक पकड़ ’’ है और उन्हें जबर्दस्त जन समर्थन हासिल है. पुतिन ने कहा कि वह एर्दोआन के साथ मिलकर काम करने और वार्ता करने के लिए तैयार हैं.

इनपुट भाषा से भी