EBM News Hindi

शुजात बुखारी की हत्‍या के तार लश्‍कर से जुड़े, फरार आतंकी खुद सवार था बाइक पर:सूत्र

नई दिल्‍ली: कश्‍मीर में ‘राइजिंग कश्मीर’ के संपादक शुजात बुखारी की हत्‍या में लश्‍कर के फरार आतंकी नवीद जट का हाथ होने की आशंका है. सूत्रों ने जांच एजेंसियों के हवाले से कहा कि जो 3 लोग बाइक पर सवार होकर बुखारी की हत्‍या करने आए थे उनमें एक नवीद जट हो सकता है. संभवत: वह बीच में बैठा था. बीच में बैठे बाइक सवार का हुलिया जट से काफी मेल खाता है. बुखारी को गुरुवार को 3 बाइक सवारों ने गोलियों से छलनी कर मौत के घाट उतार दिया था. जट फरवरी 2018 में पुलिस हिरासत से भाग गया था. इसके बाद से उसके पुलवामा इलाके में छिपे होने की खबर थी.

जट की फरारी में 5 लोगों को पकड़ा था पुलिस ने
जट 6 फरवरी 2018 को उस वक्त अस्पताल से भाग निकला था जब कम से कम दो अन्य आतंकवादियों ने यहां एसएमएचएस अस्पताल में पुलिस प्रहरी दल पर हमला किया. इस घटना में दो पुलिसकर्मी मारे गए थे. जट की फरारी के मामले में पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया था. इन्‍हें बाद में एनआईए ने अपनी हिरासत में ले लिया. इन आरोपियों-शकील अहमद भट, टीका खान, सैयद ताजमुल इस्लाम, मोहम्मद शफी वानी और जान मोहम्मद गनई शामिल हैं. जट को इलाज के लिए अस्‍पताल ले जाया गया था.

कौन है मोहम्मद नवीद जट उर्फ अबु हनाजला
जट अक्तूबर 2012 में 6 संदिग्‍धों के साथ उत्तर कश्मीर के केरान सेक्टर से कश्मीर आया था. एक सेवानिवृत्त सेना चालक के बेटे जट को लश्कर के मुखौटा संगठन जमात-उद-दावा के विभिन्न मदरसों में प्रशिक्षण दिया गया. कश्‍मीर में गिरफ्तार होने के बाद उसने जांचकर्ताओं को अपनी उम्र 17 वर्ष बताई थी. हालांकि जांच में वह 22 वर्ष निकली. जट ने कहा था कि सीमापार के उसके ‘आकाओं’ ने उसे अपनी उम्र 17 वर्ष बताने को कहा था.