EBM News Hindi

Coronavirus: महामारी से लड़ने के लिए पाक ने सीमाओं को किया बंद, तैनाती करेगा सेना

0

रावलपिंडी। पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मामले में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। शनिवार को देश में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 1500 हो गई है। पाकिस्तानी आर्मी ने कोरोना वायरस (COVID-19) के प्रसार को रोकने और नागरिकों की सहायता के लिए देश भर में सैनिकों को तैनात करने की घोषणा की है।

सेना के सार्वजनिक मामलों के प्रवक्ता मेजर जनरल बाबर इफ्तिखार ने शनिवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पाकिस्तानी सेना के जवानों को अनुच्छेद 245 के तहत नागरिकों की सहायता के लिए देश भर में तैनात किया जाएगा। हालांकि, इफ्तिखार ने अपने संबोधन में यह जिक्र नहीं किया कि कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए कितनी टुकड़ियां तैनात की जाएंगी। उन्होंने कहा कि सैनिकों और सभी चिकित्सा संसाधनों को आवश्यकता के अनुसार तैनात किया जाएगा।

डॉन न्यूज के मुताबिक आंतरिक मंत्रालय के अनुरोध पर 23 मार्च को सेना प्रमुख जनरल क़मर जावेद बाजवा ने सेना की तैनाती को मंजूरी दी थी। सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 245 (सशस्त्र बलों के कार्य) और सीआरपीसी की धारा 131 (ए) (सार्वजनिक सुरक्षा और कानून व्यवस्था के रखरखाव के लिए सैन्य बल का उपयोग करने की शक्ति) के तहत इस्लामाबाद, गिलगित-बाल्टिस्तान और पीओके सहित देश के सभी चार प्रांतों में सैनिकों की तैनाती के लिए कहा था।

कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में आर्मी की प्रतिबद्धता बताते हुए जनरल बाबर इफ्तिखार ने कहा कि आईएसपीआर ने फैसला लेते समय नियंत्रण रेखा पर स्थिति और अन्य देशों के साथ सीमाओं को भी ध्यान में रखा है। उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटों में 12,000 से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है।

वहीं, सेना ने नागरिकों से घर पर रहने और आवश्यक कारणों के बिना बाहर न निकलने का आग्रह किया है। आगामी सूचना तक देश भर में सार्वजनिक परिवहन के सभी साधनों को बंद कर दिया गया है। आईएसपीआर ने 4 अप्रैल तक अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को स्थगित करने की भी घोषणा की है।