EBM News Hindi

महाराष्ट्र उपचुनावः एनसीपी-शिवसेना ने ईवीएम को लेकर उठाए सवाल, केंद्र पर भी साधा निशाना

मुंबईः महाराष्ट्र के पालघर और भंडारा गोंदिया लोकसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में शिवसेना और एनसीपी ने सोमवार को इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन के खराब होने का आरोप लगाया .पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रफुल्ल पटेल ने सोमवार को प्रदेश के भंडारा गोंदिया लोकसभा उपचुनाव में लगभग 25 फीसदी ईवीएम मशीनों के खराब होने का दावा किया वहीं शिवसेना नेता संजय राउत ने आरोप लगाया कि सत्तारूढ दल ‘‘ईवीएम मशीनों की चाबी तथा रिमोट अपने हाथ’’ में लेकर चुनाव लड़ रहा है .पटेल ने यह जानना चाहा कि महाराष्ट्र में हो रहे उपचुनाव में सूरत की ईवीएम मशीनों का इस्तेमाल क्यों किया जा रहा है जबकि ऐसी ही ईवीएम मशीन यहां भी उपलब्ध हैं.

पटेल ने गोंदिया में संवाददाताओं से कहा, ‘‘महाराष्ट्र में ईवीएम उपलब्ध है
पटेल ने गोंदिया में संवाददाताओं से कहा, ‘‘महाराष्ट्र में ईवीएम उपलब्ध है . गुजरात के सूरत से इन्हें लाने का क्या कारण है . हम अपनी आशंकाओं से निर्वाचन आयोग को अवगत करा चुके हैं .’’ एनसीपी के वरिष्ठ नेता के अनुसार यह कहा जाना स्तब्ध कर देता है कि प्रचंड गर्मी के कारण ईवीएम में खराबी आयी है. उन्होंने उन मतदान केंद्रों पर दोबारा मतदान कराये जाने की मांग की है जहां ईवीएम में खराबी आयी है.

पटेल ने कहा, ‘‘अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस और जापान जैसे विकसित देशों ने ईवीएम का इस्तेमाल बंद कर दिया है और वह फिर से कागजी मतपत्रों के माध्यम से चुनाव करा रहे हैं .’’ भंडारा गोंदिया से 2014 में आम चुनाव हार जाने वाले पटेल ने कहा कि उनकी पार्टी ने निर्वाचन आयोग के साथ खराब ईवीएम का मामला उठाया है . उन्होंने यह भी कहा कि वीपीपेट मशीनें भी काम नहीं कर रही हैं. वीवीपेट वह मशीन होती हैं जिसमें मतदान के बात एक कागजी पर्ची निकलती है जो मतदाता को आश्वस्त करती है कि उसके मताधिकार का प्रयोग हो चुका है.

राउत ने कहा कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ अब एक चलन बन गया है
इस बीच राउत ने मुंबई में संवाददादताओं से कहा कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ अब एक चलन बन गया है .उन्होंने कहा, ‘‘पहले बूथ लूटे जाते थे और फर्जी मतदान होता था . अब, ईवीएम की चाबी और रिमोट हाथ में लेकर कुछ लोग चुनाव लड़ते हैं .’’ शिवसेना नेता ने कहा, ‘‘यह देश के लिए खतरे की घंटी है . यह ईवीएम घोटाला इसलिए हो रहा है क्योंकि आप (भाजपा) सत्ता में हैं . यही कारण है कि पुरानी पड़ चुकी ईवीएम मशीने लायी गयी हैं .’’ महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस प्रमुख अशोक चह्वाण ने कहा कि 250 से अधिक ईवीएम और वीवीपेट मशीनें खराब हुई हैं . यह एक संदिग्ध घटनाक्रम है और इसकी जांच होनी चाहिए .

मतदान का समय बढ़ाए जाने की मांग
इस बीच पालघर लोकसभा सीट पर उपचुनाव लड़ रहे भाजपा उम्मीदवार राजेंद्र गावित ने कुछ मतदान केंद्रों पर इवीएम में हुई खराबी की शिकायत मिलने के बाद मतदान का समय बढ़ाए जाने की मांग की है. गवित के मतदान प्रतिनिधियों ने पालघर में संबंधित चुनाव अधिकारियों को एक ज्ञापन सौंप कर ईवीएम और वीवीपेट में खराबी की शिकायत करते हुए मतदान की अवधि बढ़ाए जाने की मांग की. मतों की गिनती 31 मई को होगी. भंडारा गोंदिया उपचुनाव में भाजपा और एनसीपी मुख्य मुकाबले में है, जहां स्थानीय सांसद नाना पटोले के इस्तीफे के कारण चुनाव कराया जा रहा है .पालघर के भाजपा सांसद चिंतामन वनागा के निधन के कारण चुनाव कराया जा रहा है .

(इनपुट भाषा)

Tags:महाराष्ट्र लोकसभा उपचुनाव palghar lok sabha bypolls 2018Bhandara-Gondia lok sabha bypolls 2019lok sabha bypolls 2018 पालघर लोकसभा उपचुनाव