EBM News Hindi

IPL में विदेशी खिलाड़ियों का है बोलबाला, अगर नहीं खेले तो आठों टीमों पर पड़ेगा बड़ा असर

कोलकाता। बिन चांद क्या चकोर, बिन बारिश क्या मोर और बिन विदेशी क्रिकेटर क्या आइपीएल! फिलहाल अभी यह तय नहीं है कि दुनिया की सबसे महंगी क्रिकेट लीग आइपीएल होगी या नहीं और अगर होगी तो उसमें विदेशी क्रिकेटर शामिल होंगे या नहीं। टोक्यो ओलंपिक के एक साल के स्थगन के बाद बीसीसीआइ के हुक्मरानों पर इसे भी रद करने का दबाव बढ़ गया लेकिन अभी तक दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड ने इस पर फैसला नहीं लिया है।

अभी तक की स्थिति यह है कि 14 अप्रैल तक देश में लॉक डाउन है और 15 अप्रैल तक वीजा संबंधी रोक होने के कारण देश में विदेशी खिलाड़ी प्रवेश नहीं कर सकते। इस समय जो हालात हैं, उसमें आइपीएल के आयोजन की संभावनाएं कम ही नजर आ रही हैं, लेकिन आगे अगर हालात संभलते हैं और विदेशी खिलाड़ी इसमें शिरकत नहीं कर पाते या खुद ही खेलने नहीं आते तो आठों फ्रेंचाइजियों पर इसका असर पड़ना तय है। आइए जानते हैं कि विदेशी क्रिकेटरों के नहीं खेलने से किस टीम पर कितना असर पड़ सकता है।