EBM News Hindi

टीम इंडिया की जीत की उम्मीद बने विराट आज तोड़ सकते हैं गांगुली का ये रिकॉर्ड

नई दिल्ली : टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच बर्मिंघम के एजबेस्टन में खेला जा रहा पहला टेस्ट रोमांचक मोड़ पर पहुंच गया है. जीत के लिए 194 रनों का लक्ष्य हासिल करने के लिए टीम इंडिया ने 110 रनों पर 5 विकेट खो दिए हैं. उसे जीत के लिए 84 रनों की और जरूरत है. क्रीज पर उसकी आखिरी उम्मीद विराट कोहली और दिनेश कार्तिक हैं. कोहली 43 रन बनाकर एक बार फिर से क्रीज पर जम चुके हैं. क्रीज पर उनका टिका रहना ही टीम इंडिया के जीत की गारंटी होगी. इसके साथ ही वह इंग्लैंड की धरती पर एक नया रिकॉर्ड बना देंगे.

पहले टेस्ट में विराट कोहली अब तक 301 बॉल खेल चुके हैं. एक टेस्ट में सबसे ज्यादा बॉल खेलने वाले भारतीय कप्तानों की श्रेणी में वह इस समय तीसरे नंबर पर हैं. एक टेस्ट में कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा बॉल मंसूर अली खान पटौदी ने खेली थीं. उन्होंने 1967 के दौरे में लीड्स टेस्ट में एक टेस्ट मैच में 554 बॉल खेली थीं. दूसरे नंबर पर सौरव गांगुली हैं. उन्होंने 2002 में नॉटिंघम टेस्ट में 308 बॉल खेली थीं. अब तीसरे नंबर पर कोहली हैं, जो इस टेस्ट मैच में अब तक 301 बॉल खेल चुके हैं. इस टेस्ट में वह सौरव गांगुली का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं. इसके साथ ही वह टीम इंडिया की जीत भी पक्की कर सकते हैं.

यहां पर ध्यान देने वाली बात ये है कि 2014 के दौरे में विराट कोहली ने पूरे दौरे में 288 बॉल खेल पाई थीं. इस दौरे में पहले ही टेस्ट में उन्होंने कमाल कर दिया है. 2014 का विराट का दौरा सबसे खराब दौरा माना जाता है, लेकिन इस बार लगता है कि वह उस दौरे को अतीत बना चुके हैं.

2014 के दौरे में विराट कोहली ने पूरे दौरे में 288 बॉल खेली थीं. इसमें उन्होंने 10 पारियों में 134 रन बनाए थे. इस दौरे में वह अकेले टीम इंडिया के खेवनहार बने हुए हैं. बाकी की पूरी टीम इंडिया की बल्लेबाजी बुरी तरह फ्लॉप रही.