EBM News Hindi

भारत ने अफगानिस्तान को एक पारी और 262 रनों से हराया

बेंगलुरु : अफगानिस्तान के पहले टेस्ट मैच में दूसरे दिन भारत ने अफगानिस्तान को एक पारी और 262 रनों से उसका पहला टेस्ट मैच जीत लिया. आर अश्विन ने जैसे ही वफादार को बोल्ड आउट किया भारत ने अफगानिस्तान को फालोऑन खेलने के बाद दूसरी पारी में भी केवल 103 रनों पर समेटते हुए बड़ी जीत दर्ज कर ली. अफगानिस्तान के हशमतउल्लाह ने दोनों पारियों में सबसे ज्यादा 36 रन बनाए और अंत तक नाबाद रहे. उनके अलावा केवल कप्तान स्टानिकजाई 25 रन बना सके.

इससे पहले रवींद्र जडेजा की शानदार गेंदबाजी के चलते अफगानिस्तान ने 9 विकेट खो दिए और भारत को जीत के करीब ला दिया है. जडेजा ने चार विकेट लिए जिसकी वजह से अफगानिस्तान 102 रनों पर 9 विकेट गिरा दिए थे. रवींद्र जडेजा ने अपने तीसरे विकट के रूप में राशिद खान को 12 रनों के निजी स्कोर पर बोल्ड किया. इस समय टीम का स्कोर 82 रन था. इससे पहले 26 ओवर में 66 रनों पर टीम के छठा विकेट गिरा था. रवींद्र जडेजा ने जजाई को बोल्ड आउट कर दिया वे केवल एक ही रन बना सके.

फालोऑन खेल रही अफगानिस्तान की टीम शुरुआती झटकों से उबरती नजर आ ही रही थी कि उसका पांचवा विकेट गिर गया. करीब 16 ओवर के अंतराल के बाद रवींद्र जडेजा ने मेहमान टीम के कप्तान असगर स्टानिकजाई को 25 के निजी स्कोर पर शिखर धवन के हाथों कैच आउट करा दिया. उस समय पारी का 24 वां ओवर चल रहा था और अफगानिस्तान के 61 रन बोर्ड पर लग चुके थे.

केवल 24 के स्कोर पर चार विकेट गंवाने के बाद कप्तान असगर स्टानिकजाई और हशमतउल्लाह शाहिदी ने अफगानी पारी में विकेट गिरने के सिलसिले को रोकते हुए. 20 ओवर के बाद 56 रन बना लिए. कप्तान स्टानिकजाई 21 रन और शाहिदी 11 रन बनाकर क्रीज पर डटे हुए थे. जबकि टीम का चौथा विकेट सातवें ओवर में गिरा था.

इससे पहले फालोऑन खेलने उतरी अफगानिस्तान की टीम तब संकट में आ गई जब केवल 24 रन के स्कोर पर टीम के चार खिलाड़ी आउट हो गए. पारी के छह ओवर में ही उसके तीन खिलाड़ी पवेलियन वापस लौट चुके थे. तीनों ही विकेट उमेश यादव ने लिए. उमेश ने मोहम्मद शहजाद के बाद, जावेद अहमदी और मोहम्मद नबी को आउट कर दिया. भारत के लिए चौथा विकेट ईशांत शर्मा ने लिया. शर्मा ने रहमत शाह को कप्तान रहाणे के हाथों कैच करा दिया. रहमत शाह केवल चार रन ही बना सके.

मेहमान टीम को चौथे ओवर में ही पहला झटका लगा. 19 रनों के स्कोर मोहम्मद शहजाद को उमेश यादव ने विकेट के पीछे दिनेश कार्तिक के हाथों कैच आउट करा दिया. इस पारी में शहजाद 13 रन बना सके. दूसरे छोर पर जावेद अहमदी केवल तीन रन बनाकर ही खेल रहे थे. शहजाद की जगह रहमत शाह बल्लेबाजी करने आए हैं.

इससे पहले भारत के 474 रनों के जवाब में पहली पारी में अफगानिस्तान की टीम केवल 109 रन के स्कोर पर सिमट गई. अफगानिस्तान की टीम केवल 27.5 ओवर ही खेल सकी. मेहमान टीम के लिए सबसे ज्यादा रन मोहम्मद नबी (24 रन) ने बनाए . एक समय लग रहा था कि टीम 100 का भी स्कोर पार नहीं कर पाएगी. लेकिन आखिरी विकेट के लिए मुजीब उर रहमान ने 15 रन बनाए जिससे टीम का स्कोर 100 के पार हो सका. आखिरी ओवर ही रोमांचक रहा. जडेजा के ओवर की पहली गेंद पर ही मुजीब ने छक्का और फिर अगली दो गेंदों पर चौके लगा कर टीम का स्कोर 95 से 109 कर दिया लेकिन इसकी अगली गेंद पर मुजीब जडेजा की गेंद को मिस कर गए और दिनेश कार्तिक ने उन्हें स्टंप करने में कोई गलती नहीं की.

26 ओवर में ही केवल 88 के स्कोर पर टीम के 8 विकेट गिर चुके थे. अश्विन ने 27वें ओवर में अपना चौथा विकेट लेते हुए मोहम्मद नबी को ईशांत शर्मा के हाथों कैच कराकर आउट किया. मोहम्मद नबी ने 24 रन बनाए. इससे पहले अश्विन ने यामिन अहमदजई को शून्य पर आउट किया था.

रवींद्र जडेजा ने राशिद खान को 7 रन के निजी स्कोर पर उमेश यादव के हाथों कैच करा कर आउट कर दिया. इससे पहले जब टीम का स्कोर 50 होने के बाद ही अश्विन ने कप्तान असगर स्टानिकजाई को बोल्ड आउट कर दिया. स्टानिकजाई केवल 11 रन बनाकर आउट हो गए. इसके चार ओवर बाद अश्विन ने ही हशमतउल्लाह शाहिदी को भी एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया. शाहिदी भी केवल 11 रन ही बना सके.

पहले दो विकेट गिरने के बाद ही जब 8 ओवर के बाद टीम का स्कोर 35 रन ही हुआ था कि उमेश यादव ने रहमत शाह को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया. इसके अगले ही ओवर में ईशांत शर्मा ने रहमत शाह को बोल्ड कर मेहमान टीम को एक और झटका दे दिया. इस तरह अफगानिस्तान का स्कोर 35 रन पर चार विकेट हो गया.

पहला विकेट लेने के लिए भारत को बहुत ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ा. चौथे ओवर में ही हार्दिक पांड्या के सीधे थ्रो की वजह से मोहम्मद शहजाद रन आउट हो गए. शहजाद ने 14 रन बनाकर आउट हुए. 4 ओवर तक अफगानिस्तान का स्कोर एक विकेट के नुकसान पर 15 रन हो गया था. इसके बाद ही छठे ओवर में ईशांत शर्मा ने जावेद अहमदी का मिडिल स्टंप उखाड़कर पवेलियान का रास्ता दिखा दिया. अहमदी केवल एक रन बना सके थे.

पहला सत्र में भारत ने बनाए 127 रन
पहले सत्र में भारत ने अपनी पारी समाप्त होने से पहले 474 रन बनाए थे. पहले दिन छह विकेट पर 347 रन बनाने के बाद दिन के पहले सत्र में ही टीम इंडिया आउट हो गई थी. भारत की ओर से हार्दिक पांड्या ने शानदार 71 रनों की तूफानी पारी खेली लेकिन आउट होने से पहले उन्होंने रवींद्र जडेजा के साथ मिलकर टीम का स्कोर 400 के पार कराया. हार्दिक के आउट होने तक टीम का स्कोर 440 हो चुका था. अंतिम विकेट के लिए उमेश यादव ने 21 गेंदों में 26 रनों की तूफानी पारी खेली. टीम का अंतिम विकेट 105वें ओवर में ईशांत शर्मा के रूप में गिरा जो 8 रन बनाकर राशिद खान के शिकार बने.

अफगानिस्तान की ओर से यामिल अहमदजई ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए . वफादार और राशिद खान ने दो-दो जबकि मोहम्मद नबी और मुजीब उर रहमान के खाते में एक-एक विकेट गया.

उससे पहले 99वें ओवर में रवींद्र जडेजा को मोहम्मद नबी ने रहमत के हाथों कैच कराया. जडेजा केवल 20 रन ही बना सके. उसके अगले ही ओवर में हार्दिक विकेट के पीछे जजाई को वफादार की गेंद पर कैच दे बैठे. पारी के 95 ओवर में हार्दिक पांड्या और रवींद्र जडेजा ने मिलकर टीम का स्कोर 400 तक पहुंचाया. फिर 97 ओवर के बाद हार्दिका पांड्या 52 रन (85 गेंद) और रविंद्र जडेजा 18 रन (27 गेंद) रन बनाकर खेल रहे थे.

पहले दिन भारत की शानदार बल्लेबाजी रही
पहले दिन टीम इंडिया ने 347 रन बनाए थे. भारत के 6 बल्लेबाज आउट होने के बाद दूसरे दिन क्रीज पर हार्दिक पांड्या के साथ रविचंद्रन अश्विन ने ही संभलकर खेलते हुए शुरुआत की, लेकिन अश्विन ज्यादा देर तक अपना विकेट नहीं बचा सके और दिन के आठवें ओवर में ही आउट हो गए . पारी के 85वें ओवर के बाद भारत का स्कोर 6 विकेट पर 367 हो चुका था. हार्दिक 20 रन और अश्विन 17 रन बना चुके थे लेकिन इसके अगले ही ओवर में अहमदजई की गेंद पर अश्विन विकेटकीपर अफसर जजाई को कैच दे बैठे.

अफगानिस्तान के खिलाफ गुरुवार से शुरू हुए एकमात्र टेस्ट मैच के पहले दिन शुरु के पहले दो सत्रों में भारतीय टीम के बल्लेबाज छाए रहे लेकिन तीसरे सत्र में अफगानिस्तान के तेज गेंदबाजों ने वापसी की. पहले दिन के शुरुआती दो सत्र भारत के शिखर धवन और मुरली विजय के नाम रहे. दोनों ने शतक बनाए. शिखर टेस्ट मैच के पहले सत्र में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बने. यह शिखर के करियर का सातवां शतक था वहीं मुरली विजय ने भी अपने करियर का 11वां शतक लगाया. इसके अलावा लोकेश राहुल ने भी शानदार अर्धशतक लगाया.

लेकिन तीसरे सत्र में अफगानिस्तान ने वापसी करते हुए भारत के छह विकेट गिरा दिए. दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया का स्कोर 6 विकेट पर 347 हो गया था. क्रीज पर हार्दिक पांड्या (10) और रविचंद्रन अश्विन (7) खेल रहे थे. टीम के इस स्कोर में शिखर धवन के 107 रन, मुरली विजय के 105 रन, और लोकेश राहुल के 54 रनों का अहम योगदान था. तीसरे सत्र में भारत के कुल पांच विकेट गिरे जिसमें दिनेश कार्तिक का रन आउट होना भी शामिल रहा. वहीं कप्तान अजिंक्य रहाणे केवल 10 रन बनाकर राशिद खान की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए. चेतेश्वर पुजारा ने लंबी पारी खेलने की कोशिश जरूर की लेकिन वे केवल 35 रन बनाकर मुजीब उर रहमान के शिकार बन गए. उन्हें मोहम्मद नबी ने कैच किया. सबसे दुर्भाग्यपूर्ण दिनेश कार्तिक का आउट होना रहा जो केवल 4 रन बनाकर रनआउट हो गए.