EBM News Hindi

Indian Air Force की लेडी ऑफिसर्स ने पहली बार उड़ाया एमआई-17 हेलीकॉप्‍टर, बनाया नया रिकॉर्ड

चंडीगढ़। भारतीय वायुसेना (Indian Air Force, IAF) की वीमेन ऑफिसर्स ने एक नया रिकॉर्ड बनाया है। आईएएफ के ऑल वूमेन क्रू ने पहली बार एमआई-17 हेलीकॉप्‍टर उड़ाया है औा सोमवार को इस मीडियम लिफ्ट हेलीकॉप्‍टर को टेक ऑफ करते ही यह क्रू रिकॉर्ड बुक में आ गया। आईएएफ की ओर से आधिकारिक बयान जारी कर इसकी पुष्टि की गई है।
हेलीकॉप्‍टर के क्रू में फ्लाइट लेफ्टिनेंट पारूल भारद्वाज (कैप्‍टन), फ्लाइंग ऑफिसर अमन निधि (को-पायलट) और फ्लाइट लेफ्टिनेंट हिना जायसवाल (फ्लाइट इंजीनियर) शामिल थीं। इन तीनों ने बैटल इनक्‍लॉयएशन ट्रेनिंग मिशन को पूरा किया। ऑफिसर्स ने साउथ वेस्‍टर्न कमांड के फॉरवर्ड एयरबेस के प्रतिबंधित क्षेत्र से टेक ऑफ किया और फिर सफलतापूर्वक हेलीकॉप्‍टर की लैंडिंग कराई। फ्लाइट लेफ्टिनेंट भारद्वाज पंजाब के मुकेरियान की रहने वाली हैं। इस नए कीर्तिमान से अलग उन्‍होंने भी एक नया रिकॉर्ड अपने नाम किया है। फ्लाइट लेफ्टिनेंट भारद्वाज पहली महिला पायलट हैं जिन्‍होंने एमआई-17वी5 हेलीकॉप्‍टर को उड़ाया है। झारखंड से IAF की पहली पायलट निधि फ्लाइंग ऑफिसर निधि, रांची की रहने वाली हैं और वह झारखंड से आईएएफ की पहली महिला पायलट हैं। इसके अलावा फ्लाइंग ऑफिसर जायसवाल चंडीगढ़ की रहने वाली हैं और वह आईएएफ की पहली महिला फ्लाइट इंजीनियर हैं। इन तीनों महिला पायलट को हेलीकॉप्‍टर ट्रेनिंग स्‍कूल जो हाकिमपेट में है वहां पर बेसिक फ्लाइट ट्रेनिंग दी गई थी। इसके बाद बेंगलुरु के येलहांका एयरफोर्स स्‍टेशन पर इन्‍हें एडवांस्‍ड ट्रेनिंग दी गई। इस हेलीकॉप्‍टर उड़ने योग्‍य है, इसका सर्टिफिकेट स्‍क्‍वाड्रन लीडर ऋचा अधिकारी की ओर से दिया गया था जो कि यूनिट इंजीनियरिंग ऑफिसर हैं।