EBM News Hindi

घर से कर रहें हैं काम तो सही तरीके से बैठना है जरूरी, नहीं तो हो सकती है पीठ और पैर दर्द की समस्या

0

कोरोना संकट के दौर में ज्यादा से ज्यादा लोगों को घर में रहकर काम करना पड़ रहा है। ज्यादातर लोग लैपटॉप पर काम कर रहें तो कई लोगों को फाइलों में माथापच्ची करनी पड़ रही है। दफ्तर में मेज-कुर्सी पर बैठकर एक ही मुद्रा में काम करना पड़ता है, लेकिन घर में काम के दौरान बैठने की मुद्रा में हम बदलाव कर लें तो अपनी सेहत में काफी सुधार ला सकते हैं।गलत तरीके से बैठने से हो सकते हैं ये नुकसान

एक ही जगह पर घंटों बैठे रहकर काम करने से न सिर्फ कमर दर्द बल्कि और कई समस्याएं हो सकती हैं। बॉडी पेन के अलावा मोटापा, तनाव, ब्लड प्रेशर, स्पॉण्डिलाइटिस, आंखों की रोशनी कम होना, कोलेस्ट्रॉल बढ़ना, उंगलियों और कलाई में दर्द जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

सही तरीके से बैठने के साथ ही अपने कंधों और कलाइयों का भी ध्यान रखें। बीच-बीच में कंधों और कलाइयों को हिलाएं। सुर्कलर मोशन में घुमाएं और स्ट्रेच करें। हर २० मिनट बाद ब्रेक लें जिससे पैरों की मांसपेशियां भी एक्टिव रहें। बहुत देर तक पैरों को क्रॉस करके न बैठें। हवा में पैर लटका कर बैठने से कमर की हड्डी पर प्रेशर पड़ता है जिससे घुटने और पैरों में दर्द की शिकायत हो सकती है। पैरों को कहीं टिका कर काम करें या फिर उन्हें जमीन पर रखें।

बहुत देर तक बैठे रहने से ब्लड क्लॉटिंग होने लगती है जो दिमाग तक पहुंचकर स्ट्रोक का कारण बन सकते हैं।दिन भर टांगों में इकट्ठा हुआ लिक्विड गर्दन तक चला जाता है, जिसके चलते स्लीप एप्रिया जैसी समस्या हो सकती है।

लेटकर काम करना अवॉयड

गलत तरीके से बैठकर काम करने जितना ही नुकसानदायक है लेटकर काम करना। इससे कमर दर्द ही नहीं आंखों की रोशनी कम होना और सिरदर्द जैसी अन्य दूसरी समस्याएं भी हो सकती हैं।