EBM News Hindi

EVM बदलने की अफवाह की जांच करने पहुंचे अफसर तो कूलर में बैठने को लेकर निकला झगड़ा

Varanasi News, वाराणसी। 2019 के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) के परिणाम घोषित होने से पहले जारी हुए अलग-अलग न्यूज चैनलों के एग्जिट पोल (Lok Sabha Exit Polls 2019) को लेकर देश का सियासी पारा चढ़ा हुआ है। वहीं, एग्जिट पोल के नतीजों को विपक्ष ने पूरी तरह नकार दिया है। इस बीच यूपी के मऊ, गाजीपुर और चंदौली में ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप लगाकर हंगामा होने के बाद वाराणसी के पहड़िया मंड़ी में भी हलचल मची रही।
वाराणसी में FB पर फैलाई गई अफवाह पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र के पहड़िया स्थित स्ट्रांग रूम परिसर में भी अफवाह फैलाई गई। पहड़िया स्थित स्ट्रांग रूम में 2 मैजिक गाड़ियों से ईवीएम बदलने का सिलसिला चल रहा है। सूचना पर जिले के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे गए और मामले की जानकारी ली। तो राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों ने इस बात को स्वीकार किया कि यहां कोई गड़बड़ी नहीं थी सिर्फ कूलर में बैठने को लेकर चुनाव में ड्यूटी करने वाले मजिस्ट्रेट और उम्मीदवारों के प्रतिनिधियों के बीच विवाद हुआ था।
19 मई के चुनाव के बाद पीएम मोदी सहित बाकी उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करने वाले ईवीएम को सुरक्षित रखा गया है। यही नहीं बकायदा ईवीएम की सुरक्षा के लिए पैरामिलिट्री फोर्स को तैनात किया गया है। ऐसे में बीती रात फेसबुक पर जब ईवीएम बदलने की सूचना आई तो प्रशासन में हड़कम मच गया, जिसके बाद अधिकारी मौके पर पहुंचे।
जिला प्रशासन ने कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय, सपा प्रत्याशी शालिनी यादव और अन्य प्रत्याशियों के प्रतिनिधियों से पूछा तो पता चला कि कोई ईवीएम बदलने की बात नहीं है। वहीं, वाराणसी के डिप्टी एलेक्शन ऑफीसर राजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि ईवीएम को बदलने की अफवाह फैलाकर माहौल खराब करने की कोशिश की गई। जबकि उनके प्रतिनिधियों ने स्वीकार किया कि यहां ऐसा कुछ नहीं है। वहां सुरक्षा में लगाये गए सीसीटीवी सिस्टम को ठंडा रखने के लिए स्ट्रांग रूम में कूलर लगाए गए है। जहां बैठने का विवाद था जिसे ध्यान में रखते हुए उनकी सुविधा के लिए कूलर लगा दिया गया है। फिलहाल फेसबुक पर अफवाह फैलाने वाले को लेकर पुलिस जांच कर रही है।