EBM News Hindi

DGP ओपी सिंह बोले-हमने 24 घंटे में किया राजफाश, सूरत का फैजान मुख्य साजिशकर्ता

लखनऊ, जेएनएन। हिंदू समाज पार्टी के राष्टीय अध्यक्ष तथा हिंदू महासभा के नेता कमलेश तिवारी की शुक्रवार की हत्या का उत्तर प्रदेश पुलिस ने 24 घंटा में राजफाश का दावा किया है। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने दावा किया कि इस हत्याकांड के मुख्य साजिशकर्ता फैजान यूनुस भाई के साथ दो लोगों को हिरासत में लिया गया है। उन्होंने प्रेस कान्फ्रेंस में बताया कि यूपी पुलिस ने गुजरात एटीएस की मदद से कमलेश तिवारी हत्याकांड का राजफाश किया है।

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि कमलेश तिवारी की हत्या के षडयंत्र के मामले में गुजरात से मौलाना शेख सलीम, फैजान और राशिद पठान को हिरासत में लिया गया है। सभी युवा हैं। फैजान ने ही सूरत में दुकान से मिठाई खरीदी थी। 21 वर्षीय फैजान कम्प्यूटर का जानकार है और वहां पर जूता की दुकान में काम करता है। मौलाना मोहसिन शेख की उम्र 24 वर्ष है वह सूरत में ही दर्जी की दुकान में काम करता है। 23 वर्षीय राशिद अहमद खुर्शीद अहमद पठान दर्जी का काम करता है। रशीद पठान ने शुरुआती प्लान बनाया था और उसी को मौलाना सलीम शेख ने उकसाने का काम किया। 2015 में कमलेश ने कुछ आपत्तिजनक बात कही थी जिसके बाद मौलाना ने रशीद को उकसाया। फैजान मिठाई खरीदने में शामिल रहा, उससे पूछताछ कर रहे हैं।

सीसीटीवी में फुटेज भी सामने आये है। इस हत्याकांड में तीन से अधिक लोग शामिल हो सकते है। डीजीपी ने बताया कि प्रारम्भिक जानकारी में यह रसीद पठान का प्लान था। मौलाना मोहसिन ने इसे आगे बढ़ाया। अभी मुख्य साजिशकर्ता फैजान से पूछताछ जारी है। वह मिठाई खरीदने में शामिल था, हमको जो डिब्बा मिला, उसी पर आगे बढ़े।