EBM News Hindi

बॉल टैंपरिंग विवाद के बाद डेविड वॉर्नर ने पहली बार थामा बल्ला, 18 छक्कों के साथ जड़ दिया शतक

नई दिल्ली: बॉल टैंपरिंग विवाद के बाद डेविड वॉर्नर ने पहली बार बल्ला अपने हाथों में थामा. पिच पर उतरते ही डेविड वॉर्नर का जादू एक बार फिर से चला. विश्व क्रिकेट को चौंका देने वाले इस विवाद के बाद डेविड वॉर्नर हाल ही में पहली बार क्रिकेट खेलते हुए नजर आए. डेविड वॉर्नर ने ऑस्ट्रेलिया नेशनल हाई परफॉर्मेंस स्क्वैड के एक अभ्यास मैच में 130 रनों की शानदार पारी खेली. ब्रिसबेन के ओवल में हुए इस टी-20 मुकाबले में वॉर्नर ने मैदान के चारों ओर कई आक्रामक शॉट्स खेले.

बता दें कि ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज डेविड वॉर्नर पर एक साल का का प्रतिबंध लगा हुआ है. मेल ऑनलाइन के अनुसार, वॉर्नर की इस परफॉर्मेंस को दर्शकों ने बेहद पसंद किया. वॉर्नर ने अपनी पारी के दौरान पूरे सेशन बल्लेबाजी की. उन्होंने अपनी इस शतकीय पारी में 18 छक्के लगाए.

एक दर्शक का कहना था कि इनमें से 6 छक्के तो ग्रैंडस्टैंड को पार कर गए. ऐसा लग रहा था कि वह बॉल टैंपरिंग विवाद को पीछे छोड़ चुके है. उनकी बल्लेबाजी बता रही थी कि वह दुनिया की परवाह नहीं करते. इस दर्शक का यह भी कहना था कि हालांकि गेंदबाजी कुछ खास नहीं थी, लेकिन वॉर्नर के कुछ शॉट्स देखने लायक थे.

डेविड वॉर्नर की नजर अब ग्लोबल टी-20 इंटरनेशनल टूर्नामेंट पर है. यह कनाडा में खेला जाना है. इस माह के अंत में होने वाले इस टूर्नामेंट में स्टीव स्मिथ कभी क्रिकेट में वापसी होगी. वॉर्नर की तरह ही स्मिथ पर भी बॉल टैंपरिंग विवाद में एक साल का प्रतिबंध लगा हुआ है.

कैरिबियन प्रीमियर लीग में खेलेंगे वॉर्नर
कैरिबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) की टीम सेंट लूसिया ने ऑस्ट्रेलिया के प्रतिबंधित उप-कप्तान डेविड वॉर्नर के साथ आने वाले सीजन के लिए करार किया है. फ्रेंचाइजी ने एक बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी. सीपीएल के आगामी सीजन की शुरुआत आठ अगस्त से हो रही है. वॉर्नर हमवतन डार्सी शॉर्ट का स्थान लेंगे जो भारत दौरे पर जा रही ऑस्ट्रेलिया-ए टीम का हिस्सा बनने के कारण लीग में नहीं खेल पाएंगे.

क्रिकेट डॉट कॉम डॉय एयू ने फ्रेंचाइजी के महानिदेशक मोहम्मद खान के हवाले से लिखा है, “हम सेंट लूसिया स्टार्स में वार्नर का स्वागत करते हैं. वॉर्नर मौजूदा समय के महान बल्लेबाजों में से एक हैं और साथ ही मैच जीताऊ खिलाड़ी भी हैं.” वॉर्नर को हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में बॉल टैंपरिंग विवाद में दोषी पाए जाने के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने 12 महीने का प्रतिबंध लगा दिया था. इसी कारण वह इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2018) में नहीं खेले थे.

(आईएएनएस इनपुट के साथ)