EBM News Hindi

CoronavirusDelhi Lockdown Day-5: सड़कों पर उतरी भीड़ बन सकती है बड़ी मुसीबत

0

नई दिल्ली। Coronavirus Delhi Lockdown Day 5: दिल्ली-एनसीआर से हजारों की भीड़ में पलायन कर रही है। इसे लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञ काफी चिंतित हैं। वरिष्ठ चिकित्सकों का मानना है कि यह भीड़ आफत का कारण भी बन सकती है। हम इटली जैसी गलती दोहराने की तैयारी कर रहे हैं, जहां इस बीमारी से विश्व में सबसे ज्यादा मौत हो चुकी हैं। उनका कहना है कि इसे रोकने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों को मिलकर काम करना होगा। इस पर पहले से तैयारी भी होनी चाहिए थी।

अपोलो अस्पताल के सांस रोग विशेषज्ञ डॉ. राजेश चावला का कहना है कि हजारों की भीड़ में एक भी व्यक्ति निकला तो कई लोगों तक यह बीमारी पहुंच जाएगी। एक तरह से यह भीड़ आफत की आशंका को बल दे रही है। सभी लोग अपने गांव की तरफ भाग रहे हैं, वहां भी इसके फैलाव की आशंका हो जाएगी। देश की राजधानी में स्वास्थ्य सेवाएं इस महामारी से लड़ने के लिए संघर्ष करती दिख सकती है तो गांवों में क्या होगा, इसकी कल्पना कोई नहीं कर सकता। वहां तो दूर-दूर तक अस्पताल नहीं मिल पाएंगे। हालांकि राहत की बात यह है कि अभी हमारे देश में कोरोना दूसरे चरण में है जहां हम पता लगा रहे हैं कि कौन व्यक्ति किससे संक्रमित हुआ। तीसरा चरण यानी सामुदायिक फैलाव नहीं हुआ है। अगर ये हजारों की भीड़ में कोई भी संक्रमित नहीं है तो खतरे की आशंका खत्म हो जाती है।

दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन (डीएमए) के अध्यक्ष डॉ. गिरीश त्यागी का कहना है कि जिस उद्देश्य के साथ पूरे देश में लॉकडाउन की घोषणा की गई थी, उसे इस भीड़ ने पूरा नहीं होने दिया। उनके रहने, खाने-पीने की व्यवस्था को प्राथमिकता देनी चाहिए थी या फिर उन्हें वापस भेजकर लॉकडाउन की घोषणा चाहिए थी। क्या गलती की इटली ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि इटली में एक प्रांत से दूसरे प्रांत में आवाजाही पर रोक नहीं लगाई गई। इसकी वजह से वहां यह महामारी तेजी से फैल गई। विश्व में सबसे अच्छी स्वास्थ्य सेवाओं के लिए इस देश को जाना जाता है, लेकिन वहां आज स्थिति सरकार के नियंत्रण से बाहर है।