Ultimate magazine theme for WordPress.

म्यूजिक इंडस्ट्री में क्रिप्टोकरेंसी, ‘रफ्तार’ बने वर्चुअल करेंसी में फीस लेने वाले पहले रैपर

दुनिया भर में क्रिप्टोकरेंसी को लेकर चढ़ रहा खुमार अब म्यूजिक इंडस्ट्री तक पहुंच गया है। भारतीय म्यूजिक इंडस्ट्री में मशहूर रैपर, संगीतकार और निर्माता रफ्तार ने बताया है कि उन्होंने अपने शो के लिए क्रिप्टोकरेंसी में फीस ले रहे हैं।

रफ्तार ने लंबे समय से अपने बिजनेस पार्टनर अंकित खन्ना की मदद से ऐसा एक शो बुक भी किया है। इस शो का प्रदर्शन जुलाई 2021 के दूसरे सप्ताह में रखा गया है। कनाडा के ओटावा में 100 लोगों की निजी सभा के लिए इसका आयोजन होगा।

मिंट ने अंकित खन्ना के हवाले से लिखा है “मेरी राय में संगीत ब्लॉकचेन को पूरी तरह से अपनाने वाले उद्योगों में से एक होगा। कलाकार अब बिचौलियों के बिना हर तरह से सीधे जनता के बीच जा सकता है। ब्लॉकचेन में संगीत बनाने या उसके साथ बातचीत करने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए एक सहज अनुभव में तेजी लाने की क्षमता है। मुझे अपने लंबे समय से व्यापारिक सहयोगी रफ़्तार के साथ इस नए लेन-देन का स्वागत करते हुए खुशी हो रही है। यह वास्तव में नई पीढ़ी की आवाज है।”

रफ्तार ने कहा बेबी स्टेप्स
मिंट ने रफ्तार के हवाले से “मैं हमेशा ब्लॉकचेन तकनीक का फैन रहा हूं और मुझे हमेशा आश्चर्य होता है कि कलाकारों और मैनेजर्स ने इस माध्यम की क्षमता का पता क्यों नहीं लगाया। मैंने आखिरकार इस दिशा में बेबी स्टेप्स ले लिए हैं।”

पिछले एक साल में क्रिप्टोकरेंसी को लेकर पूरी दुनिया में समर्थन बढ़ा है। क्रिप्टोकरेंसी बाजार अप्रैल में 2 ट्रिलियन डॉलर का मार्केट कैप पार कर गया था। हालांकि बाद में मई महीने में क्रिप्टो मार्केट ने काफी झटके सहे हैं।

अप्रैल में ही दुनिया के टॉप अरबपतियों में शामिल और टेस्ला सीईओ एलन मस्क ने बिटकॉइन को पेमेंट के रूप में स्वीकार करने की घोषणा करके क्रिप्टो समर्थकों में जोश भर दिया था। हालांकि बाद में उन्होंने मई में इसे स्थगित कर दिया था।

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.