EBM News Hindi

BRO के इन नए पुलों से बढ़ी भारतीय सेना की ताकत, LAC तक अब आसानी से पहुंच सकेंगे टैंक

निमू । भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद के बीच बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन (Border Road Organisation) ने निमू के पास तीन नए सामरिक पुल बनाए हैं, जो भारतीय सेना को वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के साथ पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में अपने टैंक और तोपखाने की तोपों को ले जाने में मदद करेगी।

निमू में बीआरओ ने 24 टन के वाहनों के लिए इस्तेमाल होने वाले एक बेली ब्रिज को अपग्रेड किया है, जिसके बाद उसका उपयोग 70 टन तक के वाहनों को ले जाने में किया जा सकता है। यह कार्य तीन महीने के रिकॉर्ड समय में पूरा किया गया है। इन तीनों पुलों के निर्मण से पहले भारतीय सेना अपने टैंकों को ले जाने के लिए सी -17 और इल्युशिन -76 परिवहन विमान का इस्तेमाल करती थी।

बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन भारत सरकार की एजेंसी है जो सीमाओं पर रोड का जाल तैयार करने का काम करती है। बीआरओ के अधिकारी बी. किशन ने बताया कि इस पुल का निर्माण तीन महीने के रिकॉर्ड समय में किया गया है। सेना के अनुरोध पर हमने 50 मीटर लंबा स्टील की संरचना वाला पुल तैयार किया है, जो किसी भी प्रकार के भार को ले जाने में सक्षम है। उन्होंने कहा कि यह एक आर -70 श्रेणी का पुल है,जिसका उपयोग 70 टन तक के वाहनों के लिए किया जा सकता है।