EBM News Hindi

BCCI के लिए फायदेमंद होगी जय-गांगुली की जोड़ी, इस दिग्गज ने कबूली बात

नई दिल्ली, अभिषेक त्रिपाठी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) को 23 तारीख को सौरव गांगुली के तौर पर नया अध्यक्ष और जय शाह के तौर पर नया सचिव मिलेगा। इसी के साथ ही वर्तमान कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना, कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी और कोषाध्यक्ष अनिरुद्ध चौधरी का कार्यकाल खत्म हो जाएगा। यही नहीं सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (सीओए) भी बोर्ड से हट जाएगी। खन्ना को लगता है कि जय शाह और सौरव गांगुली की जोड़ी भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाईयों पर ले जाएगी। अभिषेक त्रिपाठी ने बीसीसीआइ के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना से बातचीत की। पेश है मुख्य अंश-

-आप बीसीसीआइ अध्यक्ष के तौर पर अपने कार्यकाल को कैसे देखते हैं?

-मैं इसको काफी संतोषजनक कार्यकाल कह सकता हूं। हालांकि हमारे ऊपर काफी बंदिशें थीं और हम लोग सीओए की देखरेख में और उनके आदेशानुसार काम कर रहे थे। सुप्रीम कोर्ट ने हमें जनवरी 2017 में नियुक्त किया था। उसी महीने सीओए की भी नियुक्ति हुई थी। ऐसे में मेरा मानना है कि मेरा जितने भी दायित्व थे, वो मैंने ईमानदारी से निभाए।

-नया बीसीसीआइ आ रहा है जिसके अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह बनने जा रहे हैं। आप इस नई टीम को कैसे देखते हैं और आपके हिसाब से उनके सामने कैसी चुनौतियां होंगी ?

-सबसे पहले मैं सौरव गांगुली, जय शाह और बाकी नए पदाधिकारियों को बधाई देना चाहता हूं। मुझे पूरा विश्वास है कि ये सभी भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाईयों तक ले जाएंगे। इनके साथ सबसे अच्छी बात यह है कि ये सभी अनुभवी हैं। सौरव काफी अनुभवी हैं। वह पूर्व भारतीय कप्तान हैं और बंगाल क्रिकेट संघ के अध्यक्ष हैं। ऐसे ही जय शाह भी गुजरात क्रिकेट के लिए अच्छा काम कर रहे हैं और वहां एक खूबसूरत स्टेडियम भी उन्हीं की देख रेख में बन रहा है। बाकी भावी पदाधिकारी भी अपने-अपने संघों में काफी सक्रिय रहे हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि इस नई टीम को अपने अधिकार और दायित्व पता हैं जिसके नतीजे जल्दी ही आपको देखने को मिलेंगे।