EBM News Hindi

Omega और Charzer मिलकर देशभर में लगायेंगे 20,000 ईवी चार्जिंग स्टेशन

देश भर में इलेक्ट्रिक वाहनों के बढ़ते ट्रेंड को देखतें हुए Omega Seiki Mobility ने Charzer के साथ हाथ मिलाया है, दोनों कंपनियां मिलकर 20,000 ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने वाली है। इसके साथ ही 30,000 कार्गो वाहन भी उपयोग में लाने वाली है, आने वाले 2 साल में कंपनी यह काम करने का लक्ष्य लेकर चल रही है। इसके माध्यम से कंपनी लास्ट माइल लोजिस्टिक को इलेक्ट्रिक में परिवर्तित करना चाहती है।
चार्जर उन जगहों पर चार्जिंग स्टेशन लगाने वाली है जहां पर Omega Seiki Mobility के ग्राहक ताकि उन्हें अपनाने में आसानी हो। कंपनी इसके साथ ही ड्राइवर्स के लिए चार्जर मोबाइल एप्लीकेशन व वेबसाइट भी प्रोवाइड करने वाली है ताकि उनकी मदद से नजदीकी चार्जिंग स्टेशन की तलाश कर सके और अपना स्लॉट बुक कर सके। इलेक्ट्रिक वाहन ड्राईवर चार्जिंग फैसलिटी को सब्सक्रिप्शन आधारित मॉडल पर उपयोग में ला सकते हैं।

चार्जर वर्तमान में ग्रीनड्राइव लोजिस्टिक के साथ काम कर रही है जो कि बैंगलोर में 100+ Omega Seiki वाहनों का उपयोग करती है और यह अमेजन, बिगबास्केट व पोर्टर की डिलीवरी करती है। इस अवसर पर कंपनी के बैंगलोर के 500 यात्री ऑटो रिक्शा व कार्गो तिपहिया ड्राइवर्स ने बताया कि 10 ड्राइवर्स में से 8 ने बताया कि उनके घर में जरूरी चार्जिंग इन्फ्रा नहीं है।
बैंगलोर जैसे शहर में हर दिन ऑटो ड्राईवर 150 किमी का सफर तय करते हैं जबकि ईवी ऑटो ड्राईवर सिर्फ 100 किमी चला पाते हैं और इसका कारण चार्जिंग इन्फ्रा होना नहीं है। अब चार्जर और Omega Seiki Mobility के बीच साझेदारी होने के साथ ही इस समस्या को खत्म किया जाना है, अब अगले दो साल में 20000+ लोकेशन पर चार्जिंग स्टेशन स्थापित किया जा सकेगा, इसे ड्राइवर्स की आमदनी में 40-50% का इजाफा होगा।

चार्जिंग हब में आने जाने से ड्राईवर व कंपनी का समय खराब होता है और ऐसे में फ्लीट ग्राहक 46% खर्च बचेगा तथा अपने फ्लीट को 10 गुना बढ़ाने में मदद करेगी। इसकी मदद से ड्राइवर्स प्रति महीने 55 घंटे व इसके साथ ही उनकी आमदनी 40% तक बढ़ेगी। बतातें चले कि चार्जर फ्लीट चार्जिंग मैट्रिक्स के लिए रियल टाइम डैशबोर्ड प्रदान करने वाली है, चार्जर कंपनी हर 3 दिन में चार्जिंग इन्फ्रा स्थापित कर रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.