EBM News Hindi

5 वोट लेकर चर्चा में आए नीटू का खुलासा, MP की उस हरकत का बदला लेने के लिए लड़ा था चुनाव

नई दिल्ली। देश में हुए लोकसभा चुनाव में कई उम्मीदवार अपनी बड़ी जीत को लेकर सुर्खियों में आए तो कई पहली बार चुनाव में उतरकर जनता के दिलों में बसे। वहीं पंजाब के जालंधर की सीट के लिए 19 उम्मीदवार खड़े थे, जिसमें एक थे नीटू शटरां वाला। यह वही उम्मीदवार हैं जिन्हें अपने घर से 9 वोट मिलने चाहिए थे लेकिन मिले सिर्फ 5, जब उन्हें पता लगा कि घरवालों ने ही उन्हें वोट नहीं दिए तो वो फूट-फूटकर रो पड़े। नीटू ने मीडिया के सामने आंसू बहाकर ईवीएम पर भी सवाल उठाए। यह उम्मीदवार घर से करोड़पति नहीं है लेकिन फिर भी चुनाव में उतरा। उतरने का कारण अपने ही शहर के सांसद को जवाब देना था। नीटू ने एक चैनल को दिए इंटरव्यू के दाैरान बताया कि आखिर वो क्या वजह थी जिसके कारण उन्हें चुनाव लड़ना पड़ा।नीटू शटरां वाले ने हार के बाद चुनाव लड़ने की वजह बताते हुए कहा, ”मैं चाैधरी साहब(संतोख सिंह चाैधरी) का बहुत बड़ा फैन हूं। एक बार मैं उनसे फोटों खिंचवाने लगा तो उन्होंने मुझे धक्का मारकर भगा दिया। चाैधरी की इस हरकत पर मैं गुस्सा हो गया। यहां से ही मैने चुनाव लड़ने का फैसला किया ताकि जीतकर उनके बराबर खड़ा हो सकूं।” साथ ही उन्होंने कहा कि अब मैं आगे कुछ नहीं कह सकता क्योंकि जनता ने चाैधरी को चुना है। बता दें कि चाैधरी ने कांग्रेस के लिए जांलधर की लोकसभा सीट निकाली। वह 19491 वोटों से लगातार दूसरी बार जीते।नीटू ने चुनाव आयोग से की जांच की मांग
इसके अलावा नीटू ने ईवीएम पर सवाल उठाते हुए चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग की। नीटू का आरोप है कि उनके वोटों के साथ गड़बड़ी की गई है। उनके घर के सभी 9 सदस्यों ने वोट डाले हैं, लेकिन पड़े सिर्फ 5 वोट। नीटू का कहना है कि एवीएम मशीन में गड़बड़ी थी, चुनाव आयोग को इसकी जांच करनी चाहिए। बता दें कि नीटू शटरां वाला आजाद में खड़े थे, उन्हें 856 वोट पड़े। चुनाव के चक्कर में वह 1 महीना तक अपनी दुकान पर काम भी नहीं कर सके। अब उन्हें चुनाव में उतरने का अफसोस है।

हारकर भी स्टार बन गए
नीटू हारकर भी स्टार बन गए हैं। क्या युवक और क्या पुलिस वाले सभी नीटू के फैन हो गए और उस के साथ सैलफियां खिंचवाते रहे। नीटू रुझानों के समय मीडिया के सामने फूट-फूटकर रोने लग पड़े जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर भी खूब वायरल हुआ। उन्हें अभी तक कोई नहीं जानता था लेकिन अब उन्हें दूर-दूर के फोन आ रहे हैं।