EBM News Hindi

25 हज़ार सैनिकों के कड़े पहरे में सुरक्षित व्हाइट हाउस पहुंचाए गए अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन

वाशिंगटन। जो बाइडन(Joe Biden) ने अमेरिका के राष्ट्रपति पद की शपथ ले ली है। इस बीच, उनकी सुरक्षा पर सबकी नजरें हैं। 20 जनवरी को अमेरिका में राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद बाइडन को 25 हजार सैनिकों की कड़ी सुरक्षा में व्हाइट हाउस सुरक्षित पहुंचाए गए। राष्ट्रपति पद की शपथ लेने और कुछ लोगों से हाथ मिलाने के बाद जो बाइडन को 25,000 से अधिक सैनिकों के सुरक्षा घेरे में व्हाइट हाउस सुरक्षित रूप से पहुंचाया गया। इस दौरान वहां सैकड़ों-हजारों की संख्या में दर्शक मौजूद थे।

नए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को अभूतपूर्व सावधानियों के तहत व्हाइट हाउस के अंदर लाया गया। बाइडन ने यूएस कैपिटल के बाहर एक समारोह में अपना भाषण दिया था, जहां दो हफ्ते पहले एक भीड़ ने जबरन यूएस कैपिटल में घुसने की कोशिश की थी, जिसके बाद वहां हालात काफी बेकाबू हो गए थे। इस लिहाज से बाइडन की सुरक्षा को लेकर खास एहतियात बरते गए। एक धीमी मोटरसाइकिल में कैपिटल हिल से निकलने के बाद, बिडेन ने ट्रेजरी से व्हाइट हाउस के लिए अंतिम ब्लॉक की यात्रा की।

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने गुरुवार को फर्स्ट लेडी जिल बाइडेन के साथ राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास White House में एंट्री की। इस दौरान सेना के बैंड ने दोनों का स्वागत किया।

सुरक्षा के सख्त बंदोबस्त

शपथ ग्रहण समारोह की सुरक्षा में 25 हजार से ज्यादा नेशनल गार्डस तैनात थे जिन्होंने समारोह स्थल को किले में तब्दील कर दिया था। शपथ ग्रहण के समय अमेरिकी संसद की ओर जाने वाली सड़कों पर सुरक्षाकर्मी गश्त लगा रहे थे। अमेरिकी संसद भवन के इर्दगिर्द के इलाके पेंसिलवेनिया एवेन्यू और व्हाइट हाउस के आसपास का बड़ा हिस्सा आम जनता के लिए पहले ही बंद कर दिया गया था। साथ ही इन स्थानों पर कोई अवांछनीय व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सके इसलिए आठ फुट ऊंचे अवरोधक लगाए गए थे। पूरा शहर हाई अलर्ट रहा।