EBM News Hindi

प्लास्टिक स्ट्रॉ बंद करेगा मैकडोनल्ड्स, इंग्लैंड में 1 दिन में 18 लाख स्ट्रॉ की खपत

8,865

लंदन : प्लास्टिक भारत ही नहीं दुनिया के पर्यावरण के लिए एक बड़ी चुनौती बन गई है. पर्यावरण को बचाने के लिए प्लास्टिक के इस्तेमाल को कम से कम करने की मुहिम छिड़ी हुई है. इसी क्रम में दुनियाभर में मशहूर बर्गर चेन मैकडोनल्ड्स ने इंग्लैंड और आयरलैंड स्थित अपने सभी आउटलेट्स पर प्लास्टिक के स्ट्रॉ के स्थान पर सितंबर से कागज का स्ट्रॉ ला रही है. बीबीसी के अनुसार, एक बार प्रयोग होने वाले प्लास्टिक के उत्पादों का विकल्प तलाशने का दबाव मिलने के बाद कागज के स्ट्रॉ की अवधारणा आई है. रीसाइकिल न होने की स्थिति में प्लास्टिक को खत्म होने में सैंकड़ों वर्ष लग सकते हैं. मैकडोनल्ड्स में इंग्लैंड में आश्चर्यजनक रूप से प्रतिदिन 18 लाख स्ट्रॉ प्रयुक्त होती है.

मैकडोनल्ड्स ने कहा कि व्यापक बहस को प्रतिबिंबित करते हुए हमारे ग्राहकों ने हमें बताया कि वे स्ट्रॉ के मामले में बदलाव चाहते हैं. कागज स्ट्रॉ का पूर्णत: उपयोग अगले साल से होने लगेगा. मैकडोनल्ड्स ने कहा कि उसने यह निर्णय इस वर्ष की शुरुआत में चुनिंदा रेस्तराओं में हुए सफल परीक्षण के बाद लिया. प्रतिबंध का विस्तार अभी अन्य देशों में नहीं किया है, लेकिन अमेरिका, फ्रांस और नार्वे में इसके परीक्षण शुरू हो जाएंगे.

इंग्लैंड की पर्यावरण मंत्री मिशेल गोव ने पर्यावरण की सहायता के लिए इसे एक महत्वपूर्ण योगदान बताते हुए कहा कि अन्य बड़े व्यापारों के लिए यह एक आदर्श उदाहरण है. इंग्लैंड सरकार अप्रैल में प्लास्टिक स्ट्रॉ और रुई की कलियों पर प्रतिबंध का प्रस्ताव लाई थी. लेकिन वेट्रोज, कोस्टा कॉफी और वागामामा इस मामले में कार्रवाई की शुरुआत पहले ही कर चुके हैं. हालांकि कुछ लोग प्लास्टिक स्ट्रॉ पर प्रतिबंध का विरोध भी कर रहे हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.