EBM News Hindi

सीडीओ की क्लास में गुरु और शिष्य फेल, जताई नाराजगी

मैनपुरी: बेसिक के स्कूलों में शिक्षण के स्तर की उस समय पोल खुल गई, जब सीडीओ ने प्रधानाध्यापिका और विद्यार्थी की क्लास ली। प्रधानाध्यापिका अंग्रेजी में अनुवाद नहीं कर पाई तो विद्यार्थी गणित के सवालों के जवाब नहीं दे सके।

गुरुवार सुबह 9.15 बजे सीडीओ नगेंद्र शर्मा भोजपुरा के प्राथमिक स्कूल जा पहुंचे। उपस्थिति पंजिका में पंजीकृत 91 विद्यार्थियों में से केवल 29 ही कक्षाओं में मिले। कक्षा-5 के मोहित से हमारा परिवेश पुस्तक से गेहूं-चने की बुवाई किस मौसम में की जाती है, सवाल पूछा तो उसने सही उत्तर दिया। पुस्तक पढ़वाई गई तो अटक गया। गणित के प्रश्नों का जबाव नहीं दे सका। प्रधानाध्यापिका को शिक्षा के स्तर में सुधार को कहा।

 

शौचालयों में गंदगी-

पाठशाला का शौचालय बहुत गंदा मिला। बताया गया कि सफाईकर्मी नहीं आता है, इस पर नगर पालिका ईओ को कर्मचारी का वेतन रोकने और स्पष्टीकरण लेने को कहा। एमडीएम समीक्षा में 23 अक्टूबर से प्रविष्टियां अपूर्ण मिली।

शिक्षा मित्र नहीं आ रहे पाठशाला

सीडीओ नगेंद्र शर्मा ने बताया कि शिक्षामित्र राका चौहान, शिल्पा सागर बीएलओ के नाम पर पाठशाला नहीं आ रही है। इस पर बीएसए को संबंधित शिक्षा मित्रों को अनुपस्थित मानते हुए अनुपस्थित तिथि का वेतन रोकने और स्पष्टीकरण लेने को कहा है।

नहीं मिले जूते-मोजे

विद्यालय में पंजीकृत विद्यार्थियों में से 53 बच्चों को यूनिफार्म प्राप्त हुई है। जूते-मोजे विद्यालय में आए गए हैं, लेकिन उनका वितरण नहीं हुआ है।