EBM News Hindi

सरकारी अस्पताल के ICU से चोरी हुआ तीन दिन का मासूम, बच्‍चे के बजाय रख गया बच्‍ची

बिहार के सरकारी अस्पताल में एक बार फिर लापरवाही का मामला सामने आया है. घटना मुजफ्फरपुर की है जहां के एसके मेडिकल कॉलेज अस्पताल (श्रीकृष्‍ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल) से तीन दिन का नवजात चोरी हो गया. बच्चे को अत्यंत सुरक्षित एनआईसीयू से चुराया गया है, जहां सीसीटीवी कैमरा भी लगा है. लेकिन, बच्चा गायब होने की रात का वीडियो फुटेज नहीं है. इस घटना की वजह से पूरा अस्पताल प्रबंधन स्तब्ध है. घटना को लेकर अहियापुर थाने में केस भी दर्ज कराया गया है. वहीं, बच्चा नहीं मिलने से लोगों में काफी गुस्सा है.

शिवहर का है पीड़ित परिवार

जानकारी के मुताबिक शिवहर से मुकेश राम की पत्नी सोनी ने शिवहर सदर अस्पताल में गुरुवार को बेटे को जन्म दिया था, लेकिन काफी बीमार होने की वजह से जच्चा-बच्चा को एसकेएमसीएच में भर्ती कराया गया था. बच्चे को एनआईसीयू में भर्ती कराया गया था. शनिवार को दूध पिलाने के दौरान मुकेश का बेटा गायब हो गया और उसकी जगह एक लड़की रख दी गई. इस पर परिजनों ने हंगामा शुरु कर दिया तो अस्पताल ने समझाया कि किसी का बच्चा बदल गया है, उसे ठीक कर लिया जाएगा.

बच्चे की जगह रख दिया बच्ची

इस बीच रविवार को जयमाला कुमारी एक महिला अचानक पहुंची और बच्ची को अपनी बच्ची बताने लगी तो पुलिस भी सन्न रह गई. पुलिस ने जयमाला को हिरासत में ले लिया है. बच्चा नहीं मिलने से अस्पताल में काफी तनाव का माहौल चल रहा है, क्योंकि जयमाला की बेटी मेडिकल कॉलेज कैसे पहुंची इस बारे में वह कुछ भी नहीं बता रही है. इस बच्ची का कोई भी रिकॉर्ड अस्पताल में नहीं है, जिससे मामला और भी उलझता दिख रहा है कि यह बच्ची आईसीयू तक कैसे पहुंची. जयमाला के बयान से पता चल रहा है कि बगुची नामक एक महिला ने उसे बच्चे को यहां तक पहुंचा दिया.

शक बच्चा चोर गिरोह पर

शक है कि बच्चों को चुराने वाले गिरोह ने ही लड़का को गायब करने के लिए एक लड़की का उपयोग किया है. पुलिस का कहना है कि घटना के वक्त आईसीयू में तैनात कर्मियों और अधिकारियों की तलाश की जा रही है. अहियापुर पुलिस के पदाधिकारी नें कहा है कि जल्द हीं बच्चे को बरामद कर लिया जाएगा.