EBM News Hindi

वार्नर-स्मिथ के बाद अब इस पाकिस्तानी क्रिकेटर ने की ‘बॉल टैंपरिंग’, मिली ये सजा

लाहौर, आईएएनएस। ऑस्ट्रेलिया के दो दिग्गज क्रिकेटर्स स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर पर बॉल टैंपरिंग पर लगाई गई 1-1 साल के प्रतिबंध की कड़ी सजा के बाद भी खिलाड़ियों को सबक नहीं मिला है। पाकिस्तान के बल्लेबाज अहमद शहजाद को बॉल टैंपरिंग करने का दोषी पाया गया है। शहजाद को गेंद से छेड़खानी करने के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने सजा भी दी है। उनपर मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना लगाने का फैसला लिया गया।

पाकिस्तान में खेले जा रहे घरेलू टूर्नामेंट कायद ए आजम ट्रॉफी में बल्लेबाज अहमद शहजाद को बॉल टैंपरिंग करने का दोषी पाया गया। इसके लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उनके उपर कार्रवाई करते हुए मैच फीस में कटौती कर जुर्माना लगाया। सेंट्रल पंजाब और सिंध के बीच खेले जा रहे मुकाबले के दौरान शहजाद ने गेंद के साथ छेड़खानी की जिसे वह छुपा नहीं सके और उनको पीसीबी ने इसकी सजा भी दी।

50 ओवर के फॉर्मेट में खेले जाने वाले इस टूर्नामेंट के 17वें ओवर में यह वाकया सामने आया। सिंध की टीम जब बल्लेबाजी कर रही थी तब शहजाद को गेंद के साथ छेड़खानी करते पाया गया। ऑन फील्ड अंपायर की नजर में शहजाद की यह हरकत आ गई और उन्होंने तुरंत ही गेंद को चेक किया। अंपायर ने पाया की गेंद को फील्डिंग करने वाली टीम द्वारा नुकसान पहुंचाया गया है। इसके बाद ही शाहजाद के खिलाफ इस मामले को सामना लाया गया।

फील्ड अंपायर ने इस बात को मैच रेफरी के बताया और इसके बाद टीम की कप्तानी करने वाले शहजाद को सवाल जवाब किया गया। उनके पास इस मामले में कोई संतुष्ट करने वाला जवाब नहीं था जिसके बाद पीसीबी ने शाहजाद पर 50 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगाने का फैसला लिया।

शाहजाद ने बताया, हम इस मामले पर दिए फैसले से सहमत नहीं हैं। मैं लगातार यही कह रहा हूं कि गेंद में जो बदलाव आया वो खेल में उसके प्रयोग की वजह से था ना कि उसके साथ की गई छेड़खानी की वजह से। मैंने मैच के अधिकारियों को यह बात समझाने की कोशिश की लेकिन वह इस बात को मानने को तैयार नहीं हुए। मैंने इस बात को स्वीकार कर लिया और उनके द्वारा किए गए फैसले का सम्मान करता हूं।