EBM News Hindi

रोटी नहीं इसलिए नौकर ने अपनी मालकिन को उतार दिया मौत के घाट

यमुनानगर की न्यू जैन नगर कॉलोनी स्थित हाईप्रोफाइल परिवार में हुई महिला के हत्या में पुलिस की गिरफ्त में आए नौकर ने बड़ा खुलासा किया है. हालांकि पहले घर के नौकर ने हत्या की बात अपने पर ली थी और मालकिन द्वारा उसे खाने में एक रोटी कम देना कारण बताया था.अब उसी नौकर ने पुलिस की पूछताछ में साफ कर दिया कि प्रॉपर्टी विवाद के चलते घर के मालिक ने ही अपनी पुत्र वधु को मौत के घाट उतारने की नाम पर पचास हजार रूपए देने की बात कही थी.16 मई को हुई महिला की हत्या के मामले में पुलिस ने घर के नौकर को हिरासत में लिया था. हालाकि दो दिन के पुलिस रिमांड पर भी नौकर ने पुलिस के सामने यही बात कबूल की थी कि उसे खाने में एक रोटी कम मिलती थी जिसके चलते उसने अपनी ही मालकिन रोजी को अकेला पा कर उसका गला काट दिया और यह भी माना था कि पांच मिन्ट तक वह रोजी का गला रेतने में लगा रहा.पुलिस ने उसे दो दिन के रिमांड पर भी जब उसने इससे हट कर पुलिस को कोई भी बयान नहीं दिया था. लेकिन रोटी के पीछे कत्ल की बात पुलिस के गले से भी नीचे नहीं उतर रही थी. लिहाजा पुलिस ने आरोपी नौकर राजेश को कोर्ट में पेश कर एक दिन का और रिमांड लिया, जिससे बाद नौकर ने चौंकाने वाला खुलासा किया,नौकर ने पुलिस को बताया कि उसने घर के मालिक राजेंद्र सिक्का के कहने पर मालकिन को मौत के घाट उतारा था. इसके लिए मालिक ने उसे 50 हजार रू देने की बात कही थी और यह भी कहा था कि अगर पुलिस उसे गिरफ्तार भी करती है तो वह उसे कुछ समय के बाद छुड़वा लेंगे.नौकर की माने तो उसे मालिक ने बड़ी ही प्लानिंग के साथ पूरी वारदात को अंजाम देने की बात कही थी. उसने यह भी कहा था कि कत्ल के बाद वह मौके से फरार नहीं होगा जबकि हत्या के कुछ समय के बाद वह मालिक राजेंद्र को फोन करेगा पर वह नहीं उठाएगा. दो फोन के बाद वह रोजी के पति दीपांशु को फोन करेगा. बता दे कि रोजी के हत्या के बाद नौकर घर में आने वाले लोगो को पानी पिलाता रहा था.