EBM News Hindi

मारुति सुज़ुकी अर्टिगा 1.3-लीटर डीजल का उत्पादन बंद, 2020 से बिकेगा पेट्रोल मॉडल

0

मारुति सुज़ुकी ने 1.3-लीटर डीजल इंजन वाली अर्टिगा MPV का उत्पादन बंद कर दिया है. अब मारुति सुज़ुकी अर्टिगा सिर्फ 1.5-लीटर पेट्रोल और डीजल इंजन में उपलब्ध कराई जाएगी जिसे इस साल की शुरुआत में ही लॉन्च किया गया है. फीएट से लिया गया ये इंजन लगभग एक दशक से कंपनी की छोटी कारों में लगाया जाता रहा है और 2012 में लॉन्च के बाद से ही ये अर्टिगा MPV का मुख्य इंजन बना रहा. भारत में 1 अप्रैल 2020 से नए BS6 एमिशन नॉर्म्स लागू कर दिए जाएंगे, ऐसे में इन उम्रदराज़ ऑइल बर्नर इंजनों को BS6 एमिशन वाला बनाना कंपनी के लिए बहुत खर्चीला काम है. इसकी जगह कंपनी ने 1.5-लीटर का डीजल इंजन तैयार किया है जो नई अर्टिगा के साथ उपलब्ध कराया गया है और दिल्ली में इसकी शुरुआती एक्सशोरूम कीमत 9.86 लाख रुपए है.

1.5-लीटर का K-सीरीज़ पेट्रोल इंजन लगा है जो 103 bhp पावर और 138 Nm पीक टॉर्क जनरेट करता है. कंपनी ने इस इंजन को 5-स्पीड मैन्युअल और 4-स्पीड टॉर्क-कन्वर्टर ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन दिया गया है. ये इंजन कंपनी की SHVS हाईब्रिड तकनीक से लैस है जिससे इसकी माइलेज बढ़ता है और ये पहले से BS6 इंजन है. इसके अलावा मारुति सुज़ंकी अर्टिगा में 1.5-लीटर डीजल इंजन लगाया गया है जो 94 bhp पावर और 225 Nm पीक टॉर्क जनरेट करता है, कंपनी ने इस इंजन को 6-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स दिया है. मारुति ने हाल में अर्टिगा लाइन-अप में CNG वेरिएंट भी उपलब्ध कराया है.

इसका सीधा मतलब है कि मारुति सुज़ुकी मार्च 2020 में तय डेडलाइन से पहले डीजल वाहनों को बेचना बंद करने वाली है. कंपनी ने ये घोषणा इसी साल अप्रैल में की है जिसमें मारुति सुज़ुकी ने नए इंधन नियमों के हिसाब से सिर्फ पेट्रोल वाहनों को BS6 नियमों में बदलने पर फोकस करेगी. अर्टिगा 1.5-लीटर डीजल मॉडल की बिक्री अगले साल से बंद कर दी जाएगी. ये देखना दिलचस्प होगा कि मारुति सुज़ुकी अर्टिगा पर आधारित अपनी नई XL6 प्रिमियम MPV को डीजल मॉडल में पेश करती है या नहीं. भारत में ये क्रॉसओवर 21 अगस्त 2019 को लॉन्च की जाएगी और इसका मुकाबला सैगमेंट की महिंद्रा मराज़ो, रेनॉ लॉजी, होंडा बीआर-वी और ऐसी बाकी कारों से होगा.