EBM News Hindi

मारुति बलेनो का भारत में जलवा, पांच साल में 8 लाख ग्राहकों के साथ बनी भारत की लोकप्रिय हैचबैक कार, जानें क्या है कारण

नई दिल्ली। Maruti Baleno: देश की सबसे बड़ी वाहन निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने प्रीमियम हैचबैक सेगमेंट में बलेनो को भारत में साल 2015 में लॉन्च किया था। इस कार को मारुति सुजुकी की प्रीमियम डीलरशिप नेक्सा के माध्यम से बेचा जाता हैं। फिलहाल इस कार को भारत में पांच साल पूरे हो चुके हैं। कंपनी ने घोषणा की है कि पांच सालों में बलेनो की आठ लाख से ज्यादा इकाइयां बेची जा चुकी हैं।

सिंगल इंजन का मिलता है विकल्प: यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि बलेनो की एक साल के भीतर करीब 1 लाख इकाइयां बेचीं जा चुकी हैं। वहीं साल 2018 तक इसने पांच लाख की यूनिट का आंकड़ा पार कर लिया है। इस कार में कंपनी BS6 कंम्पलाइंट 1.2 लीटर डुअल जेट डुअल वीवीटी इंजन का प्रयोग करती है, जो चार वेरिएंट सिग्मा, डेल्टा, जेटा और टॉप-स्पेक अल्फा में उपलब्ध है। बेलेनो के बेस-स्पेक सिग्मा को छोड़कर, अन्य सभी वेरिएंट CVT गियरबॉक्स के साथ पेश किए गए हैं। वहीं मिड-स्पेक डेल्टा और जेटा वेरिएंट को हल्के-हाइब्रिड तकनीक के साथ पेश किया जाता है।

वैरिएंट वाइस कीमतें: मारुति बलेनो की कीमत 5.63 लाख रुपये से 8.96 लाख रुपये के बीच तय की गई है। इसके डेल्टा सीवीटी, जेटा सीवीटी और अल्फा सीवीटी वेरिएंट की कीमत क्रमशः 7.76 लाख रुपये, 8.33 लाख रुपये और 8.96 लाख रुपये है। वहीं अगर आप माइल्ड-हाइब्रिड तकनीक वाले डेल्टा और जेटा वेरिएंट पर जाते हैं तो इनकी कीमत क्रमशः 7.33 लाख रुपये और 7.89 लाख रुपये रखी गई हैं।

क्यों आती है लोगों को पसंद: मारुति बलेनो जहां अपने लुक के चलते लोगों को भा जाती है, वहीं इसके माइलेज के आंकड़े भी बेहतर हैं। बलेनो का पेट्रोल-मैनुअल वेरिएंट जहां 21.01kmpl का माइलेज देता है, वहीं इसका CVT गियरबॉक्स से लैस मॉडल 19.56kmpl तक माइलेज प्रदान करने में सक्षम है।  दूसरी ओर, ड्यूलजेट पेट्रोल माइल्ड-हाइब्रिड पावरट्रेन में यह कार 23.87kmpl का माइलेज देती है।