EBM News Hindi

बैठक में हां, मगर रात में नहीं खुला जन औषधि केंद्र

मैनपुरी : जिलाधिकारी पीके उपाध्याय ने बुधवार को स्वास्थ्य समिति की बैठक में जिला अस्पताल में संचालित जन औषधि केंद्र को चौबीस घंटे संचालित कराने के निर्देश दिए थे। उस वक्त तो स्वास्थ्य अधिकारियों ने हां में हां मिलाई, लेकिन मीटिग कक्ष के बाहर निकलते ही भूल गए। दिन ढलते ही औषधि केंद्र के शटर में ताला डाल दिया गया। उधर, शहर के प्राइवेट मेडिकल स्टोर संचालक का कहना है कि यदि सुरक्षा मुहैया कराई जाए तो वे रात्रि सेवा मरीजों को उपलब्ध करा सकते हैं।

जिला अस्पताल परिसर में जन औषधि केंद्र का संचालन कराया जा रहा है। यहां सस्ती दरों पर दवाएं उपलब्ध कराई गई हैं। नियम है कि इस केंद्र का चौबीस घंटे संचालन कराया जाए, लेकिन जिम्मेदारों की अनदेखी के कारण दिन ढलते ही ताला पड़ जाता है। स्थिति यह है कि रात के समय में शहर में एक भी मेडिकल स्टोर नहीं खुलता। इमरजेंसी में दवा की जरूरत पड़ने पर तीमारदारों के सामने दुविधा की स्थिति पैदा हो जाती है।

बुधवार की दोपहर डीएम के निर्देश के बावजूद शाम को केंद्र में ताला डाल दिया गया। रात भर संचालन नहीं हुआ। गुरुवार की शाम भी स्थिति यही रही। उधर जिला अस्पताल के पीछे प्राइवेट मेडिकल स्टोर संचालक का कहना है कि वे पहले रात को भी मरीजों को दवा उपलब्ध कराते थे लेकिन ज्यादातर शराब पीकर अभद्रता करने लगे। असुरक्षा के भय से रात्रि सेवा बंद कर दी गई है। हां, यदि सुरक्षा मुहैया कराई जाए तो व्यवस्था दोबारा शुरू कर सकते हैं।