EBM News Hindi

पूर्व उपराष्ट्रपति ने डोनाल्ड ट्रंप को बताया

फिलाडेल्फिया। अमेरिका में अगले वर्ष होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए अभी से सियासी माहौल तैयार होने लगा है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर तीखा हमला करते हुए अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन ने डोनाल्ड ट्रंप को ‘Divider-in-chief’ कहा है। अपनी पहली विशाल रैली संबोधित करते हुए जो ने कहा कि हमे लड़ना बंद करना चाहिए और समस्याओं का मिलकर समाधान करना चाहिए। हमारे नेता, राजनीतिक आज के समय में बांटने का काम कर रहे हैं, हमारे राष्ट्रपति बांटने वालों के मुखिया हैं, लेकिन ऐसा करने वाले सिर्फ वही अकेले नहीं हैं। ऐसा मानने वाले वह ऐसे राजनीति में वह ऐसे व्यक्ति हैं जोकि लोगों को बलि का बकरा बनाते हैं और उन्हें बदनाम करते हैं।
जो बिडेन ने कहा कि हमारी राजनीति का स्तर बहुत नीचे गिर गया है, यह बहुत ही नकारात्मक, बांटने वाला, नाराजगी वाला हो गया है। हम अपने विरोधियों से चर्चा करने की बजाए उन्हें दुश्मन की तरह से दर्शाते हैं। हम सवाल करने की बजाए उसपर अपना फैसला देने लगते हैं, हम सवाल के पीछे की मंशा पर सवाल खड़ा करते हैं, हम लोगों को सुनने की बजाए उन्हें चुप कराते हैं। अपने भाषण में जो बिडेने राष्ट्रपति ट्रंप से खुद को दूर करते हुए कहा कि मैं गुस्सैल भाषण देने वाला कतई नहीं हूं। जो ने का कि कुछ लोग कहते हैं कि डेमोक्रैट एकता के बारे में नहीं सुनना चाहते हैं, वो लोग कहते हैं कि डेमोक्रैट जितना गुस्सैल हो उसके जीतने की उतनी ही प्रबल दावेदारी होती है। लेकिन मैं ऐसा नहीं मानता हूं। मैं सच में इसपर विश्वास नही करता हूं, मेरा मानना है कि डेमोक्रैट देश को एकजुट करना चाहते हैं। हमारी पार्टी हमेशा से ही इसी पर विश्वास करती आई है। उन्होंने कहा कि हम रिपब्लिकन को बदनाम नहीं करना चाहते हैं। अगर अमेरिका के लोग ऐसा राष्ट्रपति चाहते हैं जो देश को बांटे तो उन्हें मेरी जरूरत नहीं है, उन्हें पहले ही राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मिले हैं। बता दें कि सबसे पहले अमेरिका की मैगजीन टाइम ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए डिवाइडर इन चीफ शब्द का इस्तेमाल किया था।