EBM News Hindi

पाक और उसके हमदर्द देशों को संदेश है PoK में कार्रवाई, ‘मोदी जो कहता है वह करता है’

नई दिल्ली, । पहले सर्जिकल स्ट्राइक, फिर एयर स्ट्राइक और अब पाकिस्तान के कब्जे वाले गुलाम कश्मीर में आतंकियों पर भीषण गोलाबारी करके भारत ने स्पष्ट संदेश दे दिया है कि वह अपनी लड़ाई लड़ने में सक्षम भी है और हर दुस्साहस का करारा जवाब देने का साहस भी रखता है।

यह संदेश इसलिए खास है क्योंकि पिछले दिनों में पाकिस्तान न सिर्फ अंतरराष्ट्रीय मंचों पर कश्मीर का रोना रोता रहा बल्कि खुले तौर पर न्यूक्लियर वार की धमकी भी देता रहा है। माना जा रहा है कि भारत का संदेश न सिर्फ पाकिस्तान के लिए है बल्कि उन देशों के लिए भी है जो किसी खास नजरिए के कारण पाकिस्तान के साथ खड़े नजर आते हैं।

‘मोदी जो कहता है वह करता है’

अभी दो दिन पहले ही हरियाणा की एक चुनावी रैली में प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान को कहा था, ‘मोदी जो कहता है वह करता है।’ यह बयान हालांकि पाकिस्तान में जा रहे पानी को रोकने के बयानों और उसके जवाब में पाक आकाओं की घुड़कियों से संबंधित था, लेकिन रविवार को पीओके में आतंकी लांच पैड को ध्वस्त करने को भी अब उसी से जोड़कर देखा जा रहा है।

दरअसल पाकिस्तान के बालाकोट पर एयर स्ट्राइक के बाद ही सरकार की ओर से यह स्पष्ट कहा गया था कि भारत अब सिर्फ हमलों से बचाव नहीं करेगा, बल्कि हमलों को रोकने के लिए घुसकर वार भी करेगा। मोदी सरकार में यह ‘न्यू नार्मल’ (यानी मौजूदा समय में सामान्य बात) हो गया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह कहते रहे हैं कि भारत पाकिस्तानी आतंकियों का समूल नष्ट करने के लिए तैयार है। हाल में केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पोखरण में एक बयान दिया था कि पहले परमाणु हथियार इस्तेमाल न करने की नीति पर परिस्थितियों के अनुसार विचार किया जाएगा।