EBM News Hindi

पाकिस्‍तान: सिंध में ईशनिंदा के आरोपी हिंदु डॉक्‍टर को लिया गया हिरासत में, सिंध में भड़के दंगे

लाहौर। पाकिस्‍तान में एक हिंदु डॉक्‍टर को ईशनिंदा के आरोपों में हिरासत में लिया गया है। सोमवार को एक मौलवी की शिकायत के बाद डॉक्‍टर को हिरासत में लिया गया है और इस घटना के बाद से पाकिस्‍तान में तनाव बना हुआ है। घटना पाक के दक्षिणी सिंध प्रांत में हुई है। डॉक्‍टर का नाम रमेश कुमार बताया जा रहा है और वह एक वेटनेरी डॉक्‍टर हैं। सोमवार को गुस्‍साए प्रदर्शनकारियों ने मीरपुरखास जिले के फुलाड्यों में हिंदुओं की दुकानों में आग लगा दी और सड़कों पर टायर जलाए गए।
प्रदर्शनकारियों का गुस्‍सा बढ़ते देख डॉक्‍टर को हिरासत में लिया गया। पाकिस्‍तान की मीडिया की ओर से बताया गया है कि यहां एक स्‍थानीय मस्जिद में मौलवी इश्‍हाक नोहरी ने पुलिस में रमेश कुमार के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। उन्‍होंने अपनी शिकायत में कहा था कि डॉक्‍टर ने इस्‍लाम के पवित्र ग्रंथ कुरान के पेज फाड़ दिए और उसमें दवाईयां लपेट कर दी थीं। स्‍टेशन हाउस ऑफिसर जाहिद हुसैन लेगहारी ने बताया कि डॉक्‍टर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया हजै। लेगहारी के मुताबिक इस पूरे केस की जांच की जाएगी। जब तक इलाके में तनाव है डॉक्‍टर को सुरक्षित जगह पर भेज दिया गया है।
सिंध प्रांत के आतंरिक इलाके और कराची में हिंदुओं की आबादी अच्‍छी खासी है। पाकिस्‍तान हिंदु महासभा की ओर से पहले भी शिकायत दर्ज कराई जा चुकी है कि उनके समुदाय के लोगों के खिलाफ दुश्‍मनी निकालने के लिए ईशनिंदा के आरोपों का सहारा लिया जाता है। पाकिस्‍तान में साल 1987 से 2016 तक कम से कम 1,472 लोगों के खिलाफ ईशनिंदा के आरोप तहत केस दर्ज किया जा चुका है। ये आंकड़ें लाहौर स्थित सेंटर फॉर सोशल जस्टिस की ओर से जारी किए गए हैं। पाकिस्‍तान में हिंदु सबसे बड़ा अल्‍पसंख्‍यक समुदाय है। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक 75 लाख हिंदु रहते हैं। हालांकि समुदाय की मानें तो करीब 90 लाख हिंदु पाकिस्‍तान में बसते हैं। सबसे ज्‍यादा आबादी सिंध प्रांत में हैं।