EBM News Hindi

पाकिस्तान को कोई राहत नहीं, आज FATF लिस्टिंग पर निर्णय की करेगा आधिकारिक घोषणा

इस्लामाबाद, एएएनआइ। पाकिस्तान को फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स(एफएटीएफ) से कोई राहत नहीं मिली है। एफएटीएफ, पाकिस्तान को फरवरी 2020 तक अपनी ग्रे लिस्ट में डालने को तैयार है। आज दोपहर इसकी आधिकारिक घोषणा कर दी जाएगी।

बता दें, मंगलवार को पेरिस स्थित आतंकवादियों के वित्त पोषण पर निगपरानी रखने वाली संस्था एफएटीएफ ने पाकिस्तान को फरवरी 2020 तक अपनी ग्रे लिस्ट में रखने का फैसला किया। ऐसा पाकिस्तान को आतंकवादियों के वित्तपोषण  और काले धन का इस्तेमाल करने के लिए किया गया है। पाकिस्तान पर आतंकियों को आर्थिक मदद पहुंचाने के आरोप हैं।वह अपने देश में आतंकवाद को बढ़ावा देता है और उनकी सरपरस्ती करता रहता है।

पाकिस्तान के अखबार डॉन ने बताया कि इंटरनेशनल वॉचडॉग(एफएटीएफ) की बैठक में पाकिस्तान द्वारा मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फाइनेंसिंग को नियंत्रित करने के लिए किए गए उपायों की समीक्षा की और कहा कि पाकिस्तान को इन चार महीनों में दो मापदंडों पर और कदम उठाने होंगे।

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, एफएटीएफ ने अपने इस फैसले को पाकिस्तान के ब्लैकलिस्टिंग को मनी लॉन्ड्रिंग और आतंक के वित्तपोषण को रोकने के लिए असंतोषजनक कदम के साथ जोड़ा है। एफएटीएफ इन फैसलों की औपचारिक घोषणा आज दोपहर 12:00 (स्थानीय समय) पर की जानी है जो कि इसके चल रहे सत्र का अंतिम दिन है।

पाकिस्तान को जून 2018 में वॉचडॉग(FATF) द्वारा ग्रे लिस्ट में रखा गया था। इस दौरान 27 प्वॉइंट एक्शन प्लान के तहत पाकिस्तान को 15 महीने का समय दिया गया था, जिसमें उसे आतंकवाद के वित्त पोषण और कालेधन के खिलाफ कार्रवाई करनी थी। जिसके विफल होने पर उसे ईरान और उत्तर कोरिया के साथ ब्लैकलिस्ट में रखा जा सकता है।