EBM News Hindi

पत्नी संग देश छोड़ने की फिराक में थे नरेश गोयल, एयरपोर्ट पर हिरासत में लिए गए

नई दिल्ली। जेट एयरवेज के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनीता गोयल को उस वक्त हिरासत में ले लिया गया जब वह विदेश भागने की फिराक में थे। दोनों को मुंबई एयरपोर्ट पर हिरासत में ले लिया गया। बता दें कि नरेश गोयल अपनी पत्नी संग शनिवार को लंदन जा रहे थे, लेकिन विमान के उड़ान भरने से पहले ही दोनों को हिरासत में ले लिया गया। एयरपोर्ट पर इमिग्रेशन अधिकारी ने कहा कि नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनीता गोयल ईके 507 विमान से लंदन जा रहे थे थे, लेकिन उन्हें छोड़ने से रोक दिया गया। दोनों को उस वक्त बाहर लंदन जाने से रोक दिया गया जब विमान टैक्सी वे पर पहुंच गया था, इसी वक्त दोनों को इमिग्रेशन अधिकारियों ने कस्टडी में ले लिया।सूत्रों के अनुसार नरेश गोयल और उनकी पत्नी के खिलाफ लुकाउट सर्कुलर जारी किया गया है। यह नोटिस उनके परिवार के खिलाफ भी जारी किया या है जिससे कि वह देश से बाहर ना जा सके। सीरियस फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन अधिकारी और ईडी जेट एयरवेज मामले की जांच कर रही हैं। जानकारी के अनुसार जेट एयरवेज में एतिहाद एयरवेज के निवेश की ईडी जांच कर रही है। सूत्रों के अनुसार जांच एजेंसी को लगता है कि जेट एयरवेज में निवेश में एफडीआई के नियमों का उल्लंघन किया गया है। बता दें कि 2014 में एतिहाद ने जेट एयरवेज में निवेश किया था। गौरतलब है कि मौजूदा समय में जेट एयरवेज की सभी उड़ानों को रोक दिया गया है। जिसकी वजह से कंपनी के तमाम कर्मचारी बेरोजगार हो गए हैं। कंपनी पर 85000 करोड़ रुपए का बकाया है। इसके अलावा तमाम कर्मचारियों की सैलरी सहित अन्य बकाया भी है। कंपनी के सभी बकाये को मिला लें तो कंपनी 11000 करोड़ रुपए के कर्ज के बोझ तले दबी है। फंड की कमी की वजह से जेट की घरेलू और विदेश उड़ानों को रोक दिया गया है। जेट एयरवेज के एक इंजीनियर ने बताया कि सरकार की ओर से यह एक अच्छा कदम है, सरकार को एक उदाहरण देना चाहिए कि कोई भी इस तरह की धांधली करके देश से बाहर नहीं जा सकता है।