EBM News Hindi

नाबालिग दुल्हन की शादी रुकवाई तो दूल्हे ने किया 12 साल की साली का अपहरण, जानें- पूरी कहानी

ग्वालियर/मुरैना। मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में शुक्रवार को एक 14 वर्षीय नाबालिग की शादी रुकवा देने पर दूल्हे ने 12 वर्षीय साली का अपहरण कर लिया। बाद में पुलिस ने अपहृत नाबालिग को तो ढूंढ निकाला, लेकिन दूल्हा फरार है। घटना कुछ यूं है कि मुरैना जिले की पोरसा तहसील के गांव पद्दूपुरा में सतीश पुत्र रामप्रकाश सखबार की 14 वर्ष सात महीने की बेटी की शादी श्योपुर जिले के विजयपुर निवासी विनोद सखबार से तय हुई थी। गुरुवार की रात सतीश के घर बारात आ गई। इसी बीच प्रशासन को किसी ने नाबालिग किशोरी की शादी होने की सूचना दे दी। मुरैना से तत्काल महिला एवं बाल विकास विभाग तथा चाइल्ड लाइन की टीम पोरसा थाना पुलिस के साथ गांव पहुंची और विवाह को रुकवा दिया।

दूल्हे ने दुल्हन की मौसेरी बहन के साथ मिलकर रची साजिश

पुलिस टीम नाबालिग दुल्हन को वन स्टाप सेंटर ले गई, जबकि माता-पिता को समझाइश देने मुरैना ले जाया गया। अचानक विवाह रोक दिए जाने को दूल्हे ने अपना अपमान समझ लिया। चूंकि यह रिश्ता दुल्हन की रिश्ते में मौसेरी बहन गुनियापुरा गांव निवासी शकुंतला सखबार ने करवाया था, इसलिए दूल्हे ने शकुंतला के साथ मिलकर दुल्हन की 12 वर्षीय छोटी बहन का अपहरण कर लिया। दूल्हा विनोद और शकुंतला सखबार की योजना थी कि दुल्हन को पुलिस ले गई है इसलिए अब वे दूल्हे का विवाह उसकी छोटी बहन से कर दें।

आरोपी दूल्हा फरार हो गया

अपहरण की सूचना मिलते ही पोरसा थाने में दूल्हा विनोद एवं शकुंतला सखबार पर अपहरण का मामला दर्ज कर तलाश शुरू की गई। करीब पांच घंटे में पुलिस ने पोरसा के ही एक घर से 12 साल की अपहृत एवं आरोपित शकुंतला को ढूंढ निकाला। आरोपी दूल्हा फरार हो गया।

दूल्हा व रिश्तेदार पर एफआइआर दर्ज 

पद्दूपुरा में नाबालिग की शादी रुकवा कर दुल्हन व उसके माता-पिता को काउंसलिंग के लिए लाए थे। इसी बीच दूल्हा विनोद व शकुंतला सखबार नाबालिग दुल्हन की 12 वर्षीय छोटी बहन का अपहरण कर ले गए थे। उसे ढूंढ लिया है। दूल्हा व शकुंतला पर एफआइआर दर्ज की गई है।