EBM News Hindi

दिल्ली के पूर्व पुलिस कमिश्वर नीरज कुमार ने बताईं दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं की वजहें

0

नई दिल्ली। दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं के पीछे सबसे बड़ा कारण युवाओं में संस्कारों की कमी और खुद पर संयम न होना है। यदि खुद पर संयम नहीं है तो व्यक्ति की मानसिक स्थिति ऐसी नहीं रहती कि वह सही या गलत में अंतर कर सके। इसी मानसिक स्थिति के दौरान वह दुष्कर्म जैसी घटनाओं को अंजाम देता है। इसके बाद स्वयं को बचाने और सबूत खत्म करने के उद्देश्य से हैदराबाद और उन्नाव जैसी वीभत्स घटनाएं सामने आती हैं। अगर आरोपित यह मानते हैं कि वे दुष्कर्म के बाद पीड़ित को जलाकर बच सकते हैं तो उनकी गलतफहमी है।

परिवार से अलग रहना भी बड़ी समस्या

युवाओं में अशिक्षा, परिवार से अलग रहना और अकेले रहना भी दुष्कर्म की घटनाओं के बढ़ने का कारण है। इसके साथ ही जब व्यक्ति की शारीरिक जरूरतें पूरी नहीं हो पाती हैं, तो संयम खोने की स्थिति में वह ऐसी घटनाओं को अंजाम देता है। इन घटनाओं को रोकने के लिए सबसे जरूरी है कि पुलिस की मौजूदगी को बढ़ाया जाए।

सीसीटीवी कैमरों के जरिये लगातार और अधिक से अधिक स्थानों पर मॉनीटरिंग की जाए। विशेष रूप से ऐसे स्थान, जहां रात में लोगों की आवाजाही कम हो जाती है, वहां अगर सीसीटीवी से निगरानी संभव नहीं है तो वहां पुलिस की गश्त को बढ़ाया जाना चाहिए। पुलिस की मौजूदगी होने से इस प्रकार का कुकृत्य करने वालों के मन में एक डर रहता है। इसके अलावा, ऐसी घटनाएं होने के बाद पीड़ित को जल्द से जल्द न्याय और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए। जितनी जल्दी और कड़ी सजा दोषियों को मिलेगी, उससे अपराधियों के मन में ऐसी घटनाएं न करने का डर पैदा होगा, जो बहुत जरूरी है।