EBM News Hindi

थियानमेन स्क्वेयर गोलीकांड को चीन क्यों सही ठहराता है?

चीन की राजधानी बीजिंग के थियानमेन चौक पर साल 1989 में लोकतंत्र के समर्थन में बड़ा विरोध प्रदर्शन हुआ था. चीनी सरकार ने उस समय उस विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए वहां मौजूद प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलवा दी थी.

चीन की सरकार ने अब अपने उस कदम का बचाव किया है. ये एक बेहद दुर्लभ मौका है जब चीनी सरकार ने किसी सार्वजनिक मौके पर इस घटना पर अपनी राय ज़ाहिर की है.

इस कड़ी कार्रवाई के तीस साल पूरे होने पर चीन के रक्षामंत्री वी फ़ेंघी ने एक क्षेत्रीय फ़ोरम में कहा कि उस समय बढ़ती ‘अशांति’ को रोकने के लिए यह नीति अपनाना ही ‘सही’ था.

साल 1989 में बीजिंग के थियानमेन चौक पर छात्र और मज़दूर इकट्ठा हुए थे. ये लोग आज़ादी के लिए विरोध प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन तीन से चार जून के बीच चीन के वामपंथी शासन ने इसे कुचल दिया.

इस घटना की रिपोर्टिंग को भी चीन से बड़े पैमाने पर सेंसर कर दिया था. इस घटना की रिपोर्टिंग पर चीन में कड़े प्रतिबंध हैं और इस पर कोई बोलना पसंद नहीं करता है.