EBM News Hindi

जानिए, महाराष्‍ट्र का न्‍यूनतम साझा कार्यक्रम- किसानों का कर्ज माफ, एक रुपये में इलाज और 10 रुपये में थाली

0

मुंबई। मह‍ाराष्‍ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्‍व में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस का गठबंधन जिसे महा विकास अघाड़ी शपथ ग्रहण नाम दिया गया है, वह शपथ ग्रहण करने जा रहा है। इस गठबंधन अगले पांच साल क्‍या करना है, इसके लिए न्‍यूनतम साझा कार्यक्रम जारी किया गया है। कार्यक्रम की शुरुआत में ही कहा गया है कि यह गठबंधन संविधान में वर्णित किए गए धर्मनिरपेक्ष मूल्यों को लेकर प्रतिबद्ध है। इसमें किसानों को लेकर कई ऐलान किए गए हैं। इसके तहत तीनों दल किसान, रोजगार, स्वास्थ्य, उद्योग, सामाजिक न्याय, महिलाओं, शिक्षा, ग्रामीण विकास जैसे मुद्दों पर प्राथमिकता के साथ काम करेंगे। इसे गुरुवार शाम को तीनों पार्टियों ने जारी किया। शिवसेना द्वारा चुनाव के दौरान किए गए 10 रुपए थाली के वायदे को भी पूरा करने की घोषणा की गई है।

प्रेस कांफ्रेंस में शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने कहा कि सरकार सभी धर्मों को साथ लेकर चलेगी और राज्य को विकास के पथ पर लेकर जाएगी। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार ‘देश सबसे पहले’ के नारे पर आगे बढ़ेगी। साथ ही इस बात का ध्यान रखा जाएगा कि समाज का कोई भी तबका भय में न रहे। उन्‍होंने कहा कि नानार रिफाइनरी प्रोजेक्ट और बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर फैसला कैबिनेट बैठक में लिया जाएगा। गठबंधन की प्राथमिकता में किसान हैं। उन्‍होंने कहा कि महाराष्ट्र में किसानों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। यह सरकार किसानों के लिए सर्वश्रेष्ठ काम करेगी। यह एक मजबूत सरकार होगी। उन्‍होंने बताया कि इस न्‍यूनतम साझा कार्यक्रम पर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के हस्ताक्षर हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जब शिवसेना नेता से हिन्दुत्व और सावरकर पर सवाल पूछा गया तो एकनाथ शिंदे ने कहा कि जो इस न्‍यूनतम साझा कार्यक्रम का हिस्सा नहीं है उसके बारे में सवाल न पूछे जाएं। ऐसा कहते हुए शिवसेना नेता ने हिन्दुत्व से जुड़े सवाल को टाल दिया।