EBM News Hindi

जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान की पांच चौकियां तबाह, तीन सैनिक ढेर

जम्मू। बौखलाया पाकिस्तानी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा। पाकिस्तानी रेंजरों ने गुरुवार को पुंछ के सात सेक्टरों बालाकोट, बलनोई, देगवार, खड़ी करमाड़ा, शाहपुर किरनी, कसबा और गोंतरियां सेक्टर में भारी गोलाबारी की। इससे सात घर क्षतिग्रस्त हो गए और महिला समेत दो नागरिक गंभीर रूप से घायल हुए हैं। भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में बालाकोट सेक्टर के उस पार पाक सेना की पांच चौकियां पूरी तरह तबाह हो गईं और उसके तीन सैनिक मारे गए।

जानकारी के अनुसार, गुरुवार सुबह पाकिस्तानी सेना ने बालाकोट, बलनोई व देगवार सेक्टर में भारी गोलाबारी शुरू कर दी। इसकी आड़ में आतंकियों को भारतीय क्षेत्र में दाखिल कराने का प्रयास किया, जिसे सीमा पर सतर्क भारतीय सेना के जवानों ने नाकाम बना दिया। भारत की जवाबी कार्रवाई में पाक सेना की पांच चौकियां तबाह हो गई और कम से कम पाक सेना के तीन सैनिक भी ढेर हो गए। इसके बाद भी पाक सेना ने गोलाबारी बंद नहीं की और देर शाम पुंछ के ही खड़ी करमाड़ा, शाहपुर किरनी, कसबा अरैर गोंतरियां सेक्टर में भी भारी गोलाबारी शुरू कर दी। इसमें 30 वर्षीय शाहिन अख्तर पत्नी महमूद अहमद निवासी गोंतरियां व 80 वर्षीय नूर मुहम्मद पुत्र कामी निवासी निवासी करमाड़ा घायल हो गए। दोनों घायलों को जिला अस्पताल पुंछ में भर्ती कराया गया है। जिला आयुक्त पुंछ राहुल यादव व अन्य अधिकारियों ने अस्पताल जाकर घायलों का हालचाल जाना और बेहतर उपचार उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने घायलों को रेड क्रास फंड से राहत चेक भी दिए। रात तक पाक सेना रिहायशी क्षेत्रों पर मोर्टार दागती रही।

पाकिस्तान की तरफ से कठुआ के हीरानगर सेक्टर में रात को फिर गोलाबारी शुरू कर दी गई। मन्यारी व पानसर गांव को निशाना बनाया। बुधवार रात करीब साढ़े दस बजे भी इन गांवों को लक्ष्य कर गोलीबारी की, जो रात दो बजे तक चली। तहसीलदार सोहनलाल का कहना है कि प्रशासन हालात पर नजर रखे हुए है। जरूरत पड़ी तो लोगों को सुरक्षित स्थानों पर लाने के भी उचित प्रबंध किए गए हैं।

गोलाबारी के बीच स्कूलों से घर पहुंचे बच्चे

पाकिस्तानी सेना ने दोपहर को जब पुंछ के विभिन्न सेक्टरों में मोर्टार दागे तो उस समय अधिकतर सीमावर्ती स्कूलों में छुट्टी हुई थी। गोलाबारी के बीच ही अभिभावक स्कूल पहुंचे। गनीमत यह रही कि किसी को नुकसान नहीं पहुंचा और बच्चे सुरक्षित घर पहुंच गए।

जबरन बंद कराने के चार आरोपित गिरफ्तार

इस बीच, पुलिस ने उत्तरी कश्मीर के बांडीपोर में जबरन बंद लागू कराने व आम लोगों के साथ मारपीट कर उनकी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने में लिप्त चार शरारती तत्वों को गिरफ्तार किया है। चारों बांडीपोर के अष्टेंगू इीलाके के रहने वाले हैं।