EBM News Hindi

जयसूर्या की मौत की खबर को सच मान बैठा भारत का ये स्टार क्रिकेटर, जमकर उड़ी खिल्ली

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर कुछ दिन पहले खूब खबर फैली कि श्रीलंका के पूर्व क्रिकेटर सनथ जयसूर्या दुनिया में नहीं रहे। खबर फैली कि जयसूर्या की कनाडा में एक कार हादसे के दाैरान माैत हो गई है जोकि एक झूठी खबर थी। हालांकि, जयसूर्या ने 21 मई को ट्वीट भी किया कि उनके बारे में चलाई जा रही खबरें झूठी हैं, लेकिन बावजूद इसके भारतीय क्रिकेट टीम के आलराउंडर रविचंद्रन अश्विन अपने फैंस को पूछ रहे हैं किया उनके बारे में खबर सही। इसके बाद उनकी जमकर खिल्ली भी उड़ी।
अश्विन ने ट्विटर पर लिखा, ‘क्या सनथ जयसूर्या से जुड़ी यह खबर सच है? मुझे वॉट्सऐप पर एक अपडेट मिला, लेकिन यहां ट्विटर पर इस बारे में कुछ भी नहीं है।’ इसके बाद ट्विटर पर कई फैंस ने अश्विन को ट्वीट किया कि जयसूर्या की मौत की खबर फर्जी है। एक ट्विटर यूजर ने कहा, ‘यह गलत है, जयसूर्या ने खुद इसका खंडन किया है।’ अश्विन ने ट्विटर पर अपने 9.45 मिलियन फॉलोअर्स से इस खबर की सच्चाई के बारे में पूछा।
हैरानी भरी बात यह है कि क्या सच में अश्विन ने जयसूर्या की खबर को सही मान लिया था या फिर सुर्खियां बटाैरने के लिए ट्वीट किया। उनके इस ट्वीट से कई फैंस हैरान भी दिखे और उन्होंने उनकी क्लास लगा दी। एक यूजर ने अश्विन को नसीहत देते हुए जवाब दिया कि आप इंटरनेशनल खिलाड़ी हैं। अपने स्रोतों के माध्यम से इसे सत्यापित करवा सकते हैं। खुलकर मत आओ। इससे क्रिकेटर के परिवार को तकलीफ होती है। जयसूर्या सीमित ओवरों के क्रिकेट के इतिहास में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक हैं। वह 12,000 से अधिक रन बनाने वाले और एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 300 से अधिक विकेट लेने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं। उन्हें 1996 विश्व कप के मोस्ट वेल्यूएबल र्प्लेयर के अवॉर्ड से नवाजा गया था। श्रीलंका ने 1996 में विश्व कप खिताब अपने नाम किया था। उन्होंने दिसंबर 2007 में टेस्ट क्रिकेट से और जून 2011 में सीमित ओवरों के क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। 49 वर्षीय जयसूर्या ने अपने ट्विटर अकाउंट पर कार दुर्घटना की खबर से इनकार किया था। 21 मई को जयसूर्या ने लिखा, ‘कृपया मेरे स्वास्थ्य और सलामती के बारे में दुर्भावनापूर्ण वेबसाइटों द्वारा फैलाई जा रही फर्जी खबरों पर ध्यान न दें। मैं श्रीलंका में हूं और हाल ही के दिनों में कनाडा नहीं गया हूं। कृपया फर्जी खबर शेयर करने से बचें।’