EBM News Hindi

चुनाव में पार्टी के खिलाफ काम करने वालों पर कांग्रेस-BJP की टेढ़ी नजर, बनाया ये प्लान

रेवाड़ी । Haryana Assembly Election 2019: हरियाणा विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद संख्या बल के कारण भारतीय जनता पार्टी के सामने खड़ी हुई जननायक जनता पार्टी से गठबंधन की मजबूरी से फिलहाल उन लोगों को राहत मिली हुई है, जिन्होंने पार्टी के खिलाफ काम किया है। मंत्रिमंडल का गठन होने के बाद भाजपा परिणाम की विस्तृत समीक्षा करेगी। पहले बारीकी से जांच होगी। इसके बाद उन लोगों पर आंच आएगी, जिन्होंने भितरघात किया है। कांग्रेस भी इसी तरह की तैयारी में जुटी है। सूत्रों के मुताबिक, भाजपा की तरह कांग्रेस भी चुनाव परिणाम की समीक्षा करेगी और भितरघात करने वालों पर कार्रवाई करेगी।

सूत्रों के अनुसार, शपथ ग्रहण के तुरंत बाद पार्टी बारीकी से सीटें कम मिलने पर मंथन करेगी। पार्टी के सामने कई अहम सवाल है। इनमें से एक यह है कि भाजपा की दक्षिण हरियाणा में चली लहर जाट बेल्ट में घुसते ही क्यों ठहर गई? कई जिलों में भाजपा की आंधी चली, जबकि कुछ जिलों में हवा का झोंका तक नहीं आया। इन तमाम सवालों को लेकर पार्टी की ओर से एक-एक सीट की बारीकी से समीक्षा होगी। पहले हर कोण से पिछड़ने के कारणों की जांच होगी। इसके बाद उन पर गाज गिरेगी, जिन्होंने पार्टी के खिलाफ काम किया है।

सूत्रों के अनुसार पार्टी पहले विधानसभा प्रभारियों व चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की रिपोर्ट पर मंथन करेगी। इसके बाद मुख्यमंत्री, प्रदेशाध्यक्ष व संगठन मंत्री मिलकर प्रदेश स्तर पर मिलने वाले फीडबैक को अंतिम रूप देंगे और एक रिपोर्ट हाईकमान को सौंपी जाएगी। संबंधित सांसदों व संबंधित विधानसभा क्षेत्र में सक्रिय पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों से भी फीडबैक लिया जाएगा।