EBM News Hindi

गरीबी उन्मूलन के लिए बंधन बैंक के साथ काम कर चुके हैं नोबेल विजेता अभिजीत और उनकी पत्नी

कोलकाता। वैश्विक गरीबी कम करने के लिए अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी एस्थर डुफलो बंधन बैंक के साथ काम कर चुके हैं। बंधन बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि अभिजीत और उनकी पत्नी 2011 में बंधन बैंक से जुड़े थे। तब यह एक सूक्ष्म-वित्तीय संस्थान (एमएफआइ) था, जो गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम के तहत गरीबी कम करने के प्रभावी लक्ष्यों का आकलन करता था। इसी कार्यक्रम में दोनों बंधन बैंक के जुड़े थे।

नोबेल विजेता व उनकी पत्नी से करीबी रिश्ता

बंधन बैंक के एमडी और सीईओ चंद्रशेखर घोष ने बताया कि 2006 से नोबेल विजेता व उनकी पत्नी से उनका करीबी रिश्ता रहा है। बेसलाइन और पोस्ट-प्रोग्राम के तहत तैयार किए गए दस्तावेज करीब 1,000 घरों में किए गए सर्वेक्षण पर केंद्रित हैं। उन्हें बंधन के टारगेटिंग द हार्ड-कोर पुअर (टीएचपी) कार्यक्रम में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया था। इस कार्यक्रम का लक्ष्य आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों, जो गरीबी में जकड़े हुए हैं, उन्हें वित्तीय मध्यस्थता द्वारा सक्षम बनाना था।