EBM News Hindi

कहा- कांग्रेस और पाकिस्‍तान दर्द व हमदर्द का रिश्‍ता, यह कैसी केमेस्‍ट्री

सोनीेपत/हिसार, जेएनएन/एएनआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साेनीपत के मोहाना में आयोजित रैली कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने जम्मू-कश्‍मीर के बारे में ऐसे बयान दिए कि इसका फायदा पाकिस्‍तान ने उठाया। वह इन बयानों के आधार पर दुनिया में अपना केस मजबूत करने में जुटा है। यह कांग्रेस और पाकिस्‍तान के बीच कैसी केमेस्‍ट्री है। यह दर्द और हमदर्द का रिश्‍ता लगता है।

मोदी ने जम्मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटाने की चर्चा करते हुए लोगों से पूछा कि बताएं मुझे देशहित में फैसले लेने चाहिए की नहीं। उन्‍होंने कहा कि इससे कांग्रेस को परेशानी होती है और उसके नेताओं के पेट में दर्द होने लगता है। उन्‍होंने कहा कि 5 अगस्त को क्या हुआ था पता है ना। 5 अगस्त को जम्मू कश्मीर में भारत का पूरा संविधान लागू हुआ। 70 साल से जम्मू कश्मीर के विकास में जो रुकावट थी, वो हमने हटा दी। मगर तभी से कांग्रेस व उसके मिलीभगत वालों के पेट में ऐसा दर्द उठा है कि कोई दवा काम ही नहीं कर पा रही।

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने जो झूठे दावे मोदी को घेरने के लिए किए थे, उन्हीं दावों को पकड़कर उन्ही बयानों को पकड़कर, आज पाकिस्तान पूरी दुनिया में अपना केस मजबूत बनाने के लिए बयानों का उपयोग कर रही है। कांग्रेस से कहना चाहता हूं कि मोदी को घेरने के लिए जितने आरोप लगाओ चाहे जितने झूठ बोलो, मगर कम से कम मां भारती की तो इज्जत करो। भारत माता का तो गौरव करो। सीमाएं ऐसे तो मत लांघों की देश का नुकसान कर दे।

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस को उन दलितों, उन पिछड़ाें की भी चिंता नहीं, जिन्हें जम्मू कश्मीर में अधिकार से वंचित रखा गया। देश आजाद होने के बाद जब पूरा पंजाब एक था, तब इस इलाके के दलितों काे जम्मू कश्मीर के लोगों की सेवा के लिए ले जाया गया। 70 साल हो गए, चार पीढियां बीत गई। इन दलितों ने कश्मीर की सेवा की। अब उनके बच्चे पढ़कर आगे आने शुरू हुए मगर 370 धारा के तहत इन दलितों एक भी अधिकार नहीं दिया गया। 70 साल तक कांग्रेस सोती रही।

मोदी ने कहा कि बाबा साहेब अंबेडकर ने जो दलित व पीड़ितों के लिए किया था, उनका सपना जम्मू कश्मीर में कुचल दिया जाए, यह कब तक चलेगा। कांग्रेस को ना दलितों की चिंता नहीं, ना बाबा साहेब की। ऐसे लोगों की चिंता हरियाणा कर सकता है क्या। लोगों से पूछा कि ऐसे लोगों की सजा दी जाए कि नहीं। ऐसे लोगों काे घर भेज दीजिए। कांग्रेस के शासन में न जवान सुरक्षित था, न किसान और न ही खिलाड़ियों का हित।

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस राज में खिलाड़ियों की स्थिति क्या था, आप इससे परिचित है। 2014 से पहले खेल में घोटाले व घपलों की खबरें आती थीं। खेल की चर्चा नहीं होती थी बल्कि घोटालों की चर्चा होती थी। कॉमनवेल्थ घोटालों के कारण बदनामी का कारण बना था। आज उनमें हमने बेहतर प्रदर्शन किया। : प्रधानमंत्री

उन्‍होंने कहा कि हरियाणा के लोगों ने लाेकसभा चुनाव में बड़े-बड़े नेताओं को सबक सिखाया और उनका अहंकार तोड़ डाला। मोदी ने पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा का नाम लिए बिना उन पर जमकर हमले किए। उन्‍होंने रैली में आने के लिए लोगों का आभार जताया। पीएम मोदी ने कहा कि जो जनता जनार्दन को ईश्वर ना मानकर खुद को ही शहंशाह मानते हैं, उनका वही हाल हाेता है, जो हरियाणा की जनता ने लोकसभा चुनाव में करके दिखाया। जिन्होंने यहां की शांत व संकल्पशील बिरादरी में जहर घोलने का प्रयास किया, उन्हें सबक सिखा दिया। यहां के लोगों दिखा दिया कि लोकतंत्र में जनता ही सर्वोपरि।

उन्‍हाेंने कहा कि अखाड़ा चाहे कुश्ती का हो या युद्ध का मैदान हो, तिरंगा की शान बुलंद करने में हरियाणा का नौजवान सबसे आगे रहा है। मोदी ने कहा, मैं आपसे पूछता हूं कि क्या मुझे हरियाणा की इस भावना को बुलंद करना चाहिए कि नहीं। क्या मुझे देशहित में फैसले लेने चाहिए कि नहीं। क्या देशहित राजनीति से ऊपर होना चाहिए कि नहीं। हरियाणा की जो भावना है, वह कांग्रेस और उसके जैसे दलों के कान में नहीं पड़ रही है।