EBM News Hindi

इजरायल में फिर बन सकती है नेतन्याहू सरकार, गठबंधन को लेकर मुख्य विपक्षी पार्टी के साथ चर्चा

तेल अवीव, एएनआइ। इजरायल में सरकार बनाने को लेकर इज़राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और उनके मुख्य प्रतिद्वंद्वी बेनी गैंट्ज़ ने रविवार को मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने चुनाव के बाद के राजनीतिक गतिरोध के बीच एक संभावित गठबंधन की सरकार पर चर्चा की। इजरायल में एक साल से भी कम समय में तीसरे संसदीय चुनाव के बाद वहां राजनीति अस्थिरता पैदा हो गई है, जिसे खत्म करने की कोशिश की जा रही है।

नेतन्याहू और गैंट्ज़ के बीच गठबंधन को लेकर यह पहली बातचीत थी। बता दें, इजरायल के राष्ट्रपति रियूवेन रिवलिन ने पीएम नेतन्याहू को जनादेश मिलने के बाद नई सरकार बनाने के लिए न्योता दिया है।जेरूसलम पोस्ट ने बताया कि पिछले महीने के लोकसभा चुनावों के नतीजों के बाद 120 सदस्यीय केसेट (संसद) में दोनों पार्टियों में से कोई भी बहुमत हासिल नहीं कर पाया था।

लिकुड और ब्लू एंड व्हाइट पार्टियों के प्रवक्ताओं ने कहा कि बैठक संभावित राजनीतिक ढांचे पर आधारित थी और दोनों नेताओं ने जल्द ही फिर से मिलने की योजना बनाई है।इससे पहले रविवार को, नेतन्याहू ने कहा कि इजरायल को सरकार बनाने के लिए सहयोग की जरूरत है जो इस इलाके में बढ़ते सुरक्षा खतरों के बीच कठोर फैसले लेने में सक्षम हो।गैंट्स के पास सरकार बनाने के लिए 28 दिनों का वक्त होगा। वह अगर इसमें विफल रहता है तो इजरायल को एक साल से भी कम समय में तीसरे चुनाव के लिए मजबूर होना पड़ सकता है।

पिछले हफ्ते, नेतन्याहू ने घोषणा की थी कि वह गठबंधन सरकार बनाने में विफल रहने के बाद एक नई सरकार बनाने के प्रयासों को छोड़ रहे हैं। नेतन्याहू, जो दक्षिणपंथी लिकुड पार्टी के प्रमुख हैं और तीन भ्रष्टाचार के मामलों में संभावित अभियोग का सामना करते हैं, उन्होंने कहा कि गैंट्ज़ के साथ एक गठबंधन की सरकार बनाने की उम्मीद है।

सितंबर के आम चुनावों में, गैंट्ज़ के मध्यमार्गी ब्लू और व्हाइट ने 33 सीटें जीतीं, जबकि नेतन्याहू के लिकुड ने केसेट की कुल 120 सीटों में से 32 सीटें जीतीं।