EBM News Hindi

अगर भारत का संविधान पसंद नहीं है तो छोड़ दें यह देश: अठावले

मुंबई, एएनआइ। अकोला, पीटीआइ। भारतीय रिपब्लिकन पार्टी (ए) के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने गुरुवार को कहा कि भारतीय संविधान दुनिया में सबसे अच्छा है और जिन लोगों को यह पसंद नहीं है उन्हें देश में रहने का कोई अधिकार नहीं है। वह अकोला में आयोजित एक समारोह में रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया की 62 वीं वर्षगांठ पर बोल रहे थे। बता दें कि रिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया की स्थापना 3 अक्टूबर, 1957 को नागपुर में हुई थी। पार्टी की वर्षगांठ आरपीआई द्वारा प्रतिवर्ष मनाई जाती है।

इस अवसर पर बोलते हुए, अठावले (जो दलित पार्टी के एक धड़े के प्रमुख हैं) ने कहा कि संविधान, बी आर अंबेडकर की देखरेख में तैयार किया गया है, इसे दुनिया की विधि की सबसे श्रेष्ठ पुस्तक माना जाता है। उन्होंने आगे कहा, ‘जो लोग संविधान से सहमत नहीं हैं, उन्हें इस देश में रहने का कोई अधिकार नहीं है।’ कार्यक्रम के दौरान अठावले ने विभिन्न विषयों पर कविता का वर्णन किया। दलित नेता ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से कहा है कि वे मुंबई में अपनी पार्टी को कम से कम एक विधानसभा सीट दें।

महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को चुनाव होने हैं, जिसके परिणाम 24 अक्टूबर को आजाएंगे। महाराष्ट्र में 288 सीटें हैं।

हाल ही में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव को लेकर कहा गया कि महाराष्ट्र में भाजपा, शिवसेना और कई छोटे दलों का सत्तारूढ़ गठबंधन विधानसभा चुनावों में 240 से 250 सीटों पर जीत हासिल करेगा।